Operating System क्या है? पूरी जानकारी

क्या आप Operating System के बारे में जानते हैं, नहीं! कोई बात नहीं इस Post में हम यही जानने वाले हैं। आप मोबाइल या कंप्यूटर चलाते हैं तो कभी न कभी विंडोज, एंड्रॉयड का नाम तो सुना ही होगा, हाँ! तो बस यह भी एक Operating System ही है। Operating System को विस्तार से जानते हैं।

Operating System क्‍या है?

Operating System प्रोग्रामों का एक सेट है जो कंप्यूटर के संसाधनों को प्रबंधित करने के लिए डिजाइन किया गया है और जिसमें कंप्यूटर को Start करना, प्रोग्रामों को मैनेज करना, मेमोरी को मैनेज करना और इनपुट तथा आउटपुट डिवाइसों के बीच के कार्यों का समन्वय करना शामिल है।

कंप्यूटर हमारी भाषा नहीं समझते हैं, ये Binary Number 0 अथवा 1 को समझते हैं, Operating System हार्डवेयर, एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर तथा उपयोगकर्ता के बीच एक माध्यम का कार्य करता है। इसका कार्य कंप्यूटर को चलाना तथा उसे काम करने योग्य बनाये रखना है। ये हमारे दिये निर्देशों अथवा डेटा को मशीनी भाषा में बदलता है तथा परिणाम को पुन: हमारी भाषा में बदलकर एक माध्यम के रूप में कार्य करता है। जैसे – विंडोज 95, विंडोज विस्टा, विविंडो 10 आदि।

कंप्यूटर Application तथा नियंत्रण के आधार पर Operating System पाँच प्रकार के होते हैं:

  1. वास्तविक समय ऑपरेटिंग सिस्टम (Real Time Operating System)
  2. टाइम शेयरिंग ऑपरेटिंग सिस्टम (Time Sharing Operating System )
  3. एकल काम ऑपरेटिंग सिस्टम (Single Tasking Operating System)
  4. बैच प्रोसेसिंग ऑपरेटिंग सिस्टम (Batch Processing Operating System)
  5. बहु प्रोग्रामिंग ऑपरेटिंग सिस्टम (Multi Programming Operating System)
  6. मल्टी प्रोसेसिंग ऑपरेटिंग सिस्टम (Multi Processing Operating System)

1. वास्तविक समय ऑपरेटिंग सिस्टम:- इसका मुख्य उद्देश्य User को तिव्र Response Time उपलब्ध कराना है। ये प्रणाली मशीनरी, बैज्ञानिक और औद्योगिक उपकरणों को नियंत्रित करने के लिए उपयोग किया जाता है। इसमे उपयोगकर्ता का हस्तक्षेप कम होता है, तथा एक प्रोग्राम के परिणाम का दुसरे प्रोग्राम में इनपुट डेटा के रुप में प्रयोग होता है। वास्तविक समय ऑपरेटिंग सिस्टम का एक महत्वपूर्ण हिस्सा यह है कि एक विशेष ऑपरेशन एक निश्चित समय अवधि में ही पुर्ण हो जाये, नहीं तो आगे के प्रोग्राम में त्रुटि आ जायेगी तथा परिणाम रुक जाएगा। जैसे – बैज्ञानिक अनुसंधान, रेलवे आरक्षण, उपग्रहों का संचालन आदि।

2. टाइम शेयरिंग ऑपरेटिंग सिस्टम:- इसमें User को एक संसाधन का साझा उपयोग करना होता है।

3. एकल काम ऑपरेटिंग सिस्टम:- इस प्रकार के ऑपरेटिंग सिस्‍टम एक User को प्रभावी रुप से एक समय में एक ही कार्य करने की अनुमति देता है।

4. बैच प्रोसेसिंग ऑपरेटिंग सिस्टम:- इस सिस्टम में काम समूह मेंं होता है। अर्थात ऑपरेटिंग सिस्टम जब सारे कार्य समूह मेंं User के हस्तक्षेप के बिना प्राथमिकता के आधार पर करता है तो ऐसे सिस्टम को बैच प्रोसेसिंग ऑपरेटिंग सिस्टम कहते हैं। जैसे – बिलिंग बनाना आदि।

5. बहु प्रोग्रामिंग ऑपरेटिंग सिस्टम:- ऐसे सिस्टम में ऑपरेटिंग सिस्टम द्वारा एक से अधिक प्रोग्राम या कार्य एक ही साथ करते हैं। हर कार्य को CPU का एक निश्चित समय दिया जाता है जिसे टाइम स्लाइसिंग कहते है।

6. मल्टी प्रोसेसिंग ऑपरेटिंग सिस्टम:- इस सिस्टम में एक ही कंप्यूटर सिस्टम में दो या दो से अधिक सेन्ट्रल प्रोसेसिंग यूनिट का उपयोग होता है।

ऑपरेटिंग सिस्टम के कुछ प्रमुख कार्य

  1. Memory Management
  2. Processor management (Process
  3. Scheduling)
  4. Device Management
  5. File Management
  6. Security
  7. System Performance देखना
  8. Error बताना
  9. Software और User के बिच में तालमेल बनाना

कुछ महत्वपूर्ण ऑपरेटिंग सिस्टम

  1. MS Dos
  2. MS Windows
  3. Unix
  4. Linux
  5. Mac
  6. Android
  7. IOS
  8. Ubuntu

ये भी पढ़े:-

  1. What is Computer- समान्य परिचय
  2. What is Software – समान्य परिचय
  3. एंड्रॉयड क्या है?- What Is Android in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top
error: Content is protected !!