VPN क्या है और काम कैसे करता है?

क्या आप जानते हैं कि VPN क्या होता है। अगर आप किसी ऐसे Website को खोलना, देखना या Access करना चाहते हैं। जो आपके यहां बंद है। तब इसके लिए आप VPN का उपयोग कर सकते हैं। क्योंकि VPN एक Virtual Private Network है। जो Ban Website को Access करने में मदद करता है।

जैसे Facebook, Twitter, Instagram और Google इत्यादि Website का उपयोग हम भारत में बहुत अधिक करते हैं। लेकिन वहीं हमारे पड़ोसी देश China में यह सब बंद है। यानी अगर आप China में हैं। तब आप इन Website का उपयोग नहीं कर सकते हैं। क्योंकि वहाँ पर यह Ban है। इसलिए वहाँ से इन Website को खोलने पर नहीं खुलता।

किसी भी Website को Ban Government करते हैं। इसके लिए ISP (Internet Service Provider) से उन Website को Block करवाते हैं। ISP वहीं होते हैं, जो हमें Internet Provide करते हैं। यानी Sim की कंपनी ही ISP होती है। जैसे हमारे भारत देश में अभी कुछ ISP है। जैस; JIO, AIRTEL, VI इत्यादि।

अब यदि सिर्फ JIO किसी Website को Block कर देती है। तब हम उस Website को JIO के Internet से Access नहीं कर सकते हैं। लेकिन AIRTEL या VI के Internet से उस Website को Access कर सकते हैं। इसलिए जब Government किसी Website पर Ban लगाता है। तब सभी ISP उन Website को Block करती है। यानी किसी भी Website को ISP Block कर सकती है।

लेकिन यहीं पर VPN आता है। यह किसी भी Block Website को Open कर सकती है। लेकिन क्या आपको पता है कि VPN क्या है और काम कैसे करता है। यदि आपको VPN की जानकारी नहीं है। तब इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें। इसमें VPN की पूरी जानकारी बताया गया है।

VPN क्या है? (What is VPN in Hindi)

VPN का पूरा नाम Virtual Private Network है। यह एक Server होता है। जो अन्य Server से Connect करने का माध्यम Provide करता है। यह माध्यम एक Private Tunnel के रुप में होती है। जो Privately Internet Surfing करने में मदद करता है। जिससे Blocked Website को भी Access किया जा सकता है।

VPN का उपयोग सिर्फ Blocked Website को Access करने में ही नहीं, बल्कि Internet पर गुमनाम और सुरक्षित रुप से Surfing करने के लिए भी किया जाता है। VPN के उपयोग से हम अपने Device के IP Address, Location आदि को भी Change कर सकते हैं। इसके जरिए किसी भी Data को गुप्त तरीके से भेज सकते हैं।

जिसका पता ISP को भी नहीं होता है। हम Internet पर जो कुछ भी करते हैं। वो सब हमारे ISP को पता होता है। लेकिन VPN के उपयोग से ISP को भी पता नही चलता है कि आप क्या कर रहे हैं। इसका उपयोग Hackers भी करते हैं और Hackers से बचने के लिए भी इसका उपयोग किया जाता है।

VPN काम कैसे करता है?

प्रत्येक Website का अपना Server होता है। जब किसी Website को Access करते हैं यानी खोलते या देखते हैं। तब हमारा Device उस Website के Server से Connect होता है। यह Connection ISP (Internet Service Provider) से होते हुए होता है। जिसके कारण हम किस किस Website को खोलते हैं। इसकी पूरी जानकारी हमारे ISP को होती है।

लेकिन जब ISP किसी Website को Block करती है। तब उस वेबसाइट को Access करते वक्त हमारे Connection को ISP खुद से होकर आगे बढ़ने ही नहीं देता है। जिसके कारण हम उस Website को Access नहीं कर पाते हैं। लेकिन VPN के द्वारा ऐसे Website को Access कर सकते हैं। चलिए जानते हैं कि कैसे VPN के द्वारा Block Website को Access करते हैं। इसकी Process

जैसा कि VPN भी एक Server ही होता है। इसलिए जब हम VPN से Connect होते हैं। तब किसी भी वेबसाइट को खोलने पर सबसे पहले ISP से होते हुए VPN Server तक ही पहुंचते हैं। VPN Server तक पहुंचने के बाद VPN Server किसी भी Website को Access करने की Permission देता है। यानी VPN से Connect होने के बाद किसी भी Website को Access करने के लिए 2 Layer को पार करना होता है।

जैसे; VPN से Connect होने के बाद Facebook को Access करना चाहते हैं। तब आपका Connection ISP से होते हुए VPN Server तक और फिर VPN Server से Facebook Server तक पहुंचता है। यह प्रक्रिया Encrypted होती है। इसलिए किसी को भी पता नहीं चलता है कि आप किस किस Website को खोलते हैं। VPN के उपयोग से ISP भी नहीं जान पाता है कि आप किस वेबसाइट को Access करते हैं।

अगर कोई Hacker आप पर नजर बनाए हुए है। तब उस Hacker से भी सुरक्षित हो जाते हैं। लेकिन आप किस किस Website को खोलते हैं। यह जानकारी VPN Server को होती है। VPN Server के Owner इसे देख सकती है। इसलिए आप चाहें तो खुद Server खरीदकर VPN Use कर सकते हैं। लेकिन यह महंगा हो सकता है।

VPN के फायदे

  1. VPN के उपयोग से हमारा Connection Encrypted होती है। इसलिए हमारा Privacy सुरक्षित होता है। जिससे सुरक्षित Internet Surfing करते हैं।
  2. Connection Encrypted होने की वजह से हमारा Data Hackers और ISP से भी सुरक्षित होता है।
  3. VPN के उपयोग से Device के IP Address बदल सकते हैं। जिससे हमारा Original IP Address छुप जाता है।
  4. VPN के उपयोग से Device का Location भी Change हो जाती है। जिससे हम पर नजर रखने वाले को हमारा सही Location पता नहीं चलता है।
  5. VPN के उपयोग से ISP के द्वारा Blocked Website को Access कर सकते हैं।

VPN के नुकसान

  1. VPN के उपयोग से हमारा Connection बड़ा हो जाता है। जिसके कारण Internet Connection धीमा हो जाता है।
  2. VPN के उपयोग से हमारी पूरी जानकारी VPN Server पर होती है। जिसे VPN Server के Owner देख सकता है।
  3. फ्री VPN Server के उपयोग करने से हमारे Data सुरक्षित नहीं होता है। VPN Server के Owner हमारे Data को बेच कर अच्छा खासा पैसे काम लेते हैं।
  4. Paid VPN महंगे होते हैं। जिसके कारण Paid VPN का उपयोग सभी लोग नहीं करते हैं।
  5. Paid VPN के पास भी हमारा Data होता है।

VPN का उपयोग कैसे करें?

आप लोग सोच रहे होंगे कि VPN तो एक App होता है। लेकिन आपने इसे Server बताया है। तो आपको फिर से बता दूँ कि VPN एक Server ही होता है। लेकिन Device को उस VPN Server से Connect करने के लिए एक App बनाया जाता है। Internet पर बहुत सारे VPN उपलब्ध है। कुछ VPN Paid है तो कुछ Free VPN है।

अब यदि आप VPN का Use करना चाहते हैं। तब आपको सबसे पहले एक VPN Application अपने Device में डाउनलोड करना होगा। मोबाइल फोन के लिए भी VPN App है और कंप्यूटर के लिए भी VPN App होता है। सभी VPN App के काम करने का तरीका थोड़ा अलग होता है। अपने Device को VPN से Connect करने के लिए किसी एक VPN App का इस्तेमाल करना जरूरी है। नीचे कुछ पॉपुलर VPN App के नाम बताया गया है।

मोबाइल VPN का नाम

  1. IPVanish Android
  2. PureVPN
  3. NordVPN
  4. ExpressVPN
  5. CyberGhost
  6. PrivateVPN

कंप्यूटर VPN का नाम

  1. IPVanish VPN
  2. NordVPN
  3. PureVPN
  4. ExpressVPN
  5. CyberGhost
  6. Surfshark
  7. PrivateVPN

फ्री VPN का उपयोग क्यों नहीं करना चाहिए?

Internet पर Free और Paid दोनो तरह के VPN उपलब्ध है। लेकिन Free वाले VPN का उपयोग करना आपको खतरे में डाल सकता है। कई बार जो Hackers आपको Hack करना चाहते हैं। वही Hackers अपना Free VPN बनाए होते हैं।

जिससे इन Hackers का काम आसान हो सके। क्योंकि VPN Server के पास हम कौन-कौन से Website को खोल रहे हैं। इसकी पूरी जानकारी होती है। जो आपको Hack करने में Hackers की अच्छी खासी सहायता कर सकते हैं। ये Hackers पैसे के लिए आपके Data को बेच भी सकती है और आपको पता भी नहीं चलेगा।

इसलिए Free VPN का उपयोग नहीं करना चाहिए। जबकि Paid VPN वाले हमारे Data को सुरक्षित रखते हैं। क्योंकि उनकी कमाई होती रहती है। लेकिन सभी Paid VPN पर भी भरोसा नहीं किया जा सकता है। किसी अच्छे और Trusted कंपनी के VPN का ही इस्तेमाल करना चाहिए।

ये भी पढ़ें:-

  1. GPS क्या है और काम कैसे करता है?
  2. Hacking क्या है? पूरी जानकारी
  3. Ethical Hacker कैसे बनें? पूरी जानकारी

आपने क्या सीखा?

इस लेख में हमने VPN क्या है, VPN काम कैसे करता है, VPN के फायदे और नुकसान और VPN का Use कैसे करें बताया गया है। हम उम्मीद करते हैं कि यहाँ बताये गये VPN की जानकारी पसंद आया होगा। यदि यह लेख आपको पसंद आया और कुछ नया सीखने को मिला है। तब इस लेख को WhatsApp और Facebook के माध्यम से अपने दोस्तो के साथ भी शेयर जरुर करें।

5 thoughts on “VPN क्या है और काम कैसे करता है?

  1. Vpn के बारे में बहुत ही बढ़िया जानकारी शेयर करे हो आप अपना फीडबैक हमारे ब्लॉग पर जरूर दे

  2. When I initially commented I clicked the “Notify me when new comments are added” checkbox and now each time a comment is added I
    get several e-mails with the same comment. Is there any way you can remove me from
    that service? Thanks!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top
error: Content is protected !!