UPI क्या है? इसके फायदे और नुकसान

यदि आप Digitally रुप से साक्षर या इंटरनेट की थोड़ी बहुत भी जानकारी रखते होंगे। तब आपको UPI की जानकारी अवश्य होगी। या फिर UPI के बारे में जरूर सुना होगा। इसे Mobile Banking को आसान बनाने के लिए नोटबंदी के बाद लाया गया था। आज India Digital India की ओर अग्रसर हो रहा है। जिसके तहत सभी कार्यों को Digital किया जा रहा है।

जिसमें Smartphone से पैसों का लेन-देन भी शामिल है। यदि आप भी Mobile से भुगतान करते हैं या Mobile Banking का इस्तेमाल करते हैं। तब आपको UPI का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए। क्योंकि यह अन्य भुगतान प्रणाली से बिलकुल अलग और आसान होता है। इसलिए अगर आप UPI की पूरी जानकारी चाहते हैं। तब इस Post को अंत तक जरूर पढ़ें।

UPI क्या है? (What is UPI in Hindi)

UPI का पूरा नाम (UPI Full Form in Hindi) Unified Payment Interface है। यह Digital Payment करने का एक तरीका है। जिसे भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम और भारतीय रिजर्व बैंक के द्वारा शुरू किया गया था। इसके द्वारा बैंक से पैसों का लेन-देन तत्काल और आसानी से किया जा सकता है। इसके आसान होने का मुख्य कारण है कि इससे पैसों का लेन-देन करने के लिए किसी प्रकार के बैंक विवरण की आवश्यकता नहीं होती है।

इससे लेन-देन करने के लिए सिर्फ एक Virtual Payment Address (VPA) की आवश्यकता होती है। जिसे UPI ID कहा जाता है। यह Email Address की तरह होता है। इसके कारण लेन-देन करना आसान हो जाता है। क्योंकि पहले लेन-देन करने के लिए बैंक के बहुत सारे विवरण की आवश्यकता होती थी। जैसे; Account Number, IFSC Code, Name, Branch इत्यादि।

UPI Payment करने का Latest Technology है। जिसने Cashless Payment को बढ़ावा दिया। इसका इस्तेमाल कर कुछ ही पलों में पैसे भेज और प्राप्त कर सकते हैं। इसके द्वारा प्रत्येक दिन एक लाख रुपये तक का Payment किया जा सकता है। इसे शुरुआत BHIM Application के साथ किया गया था। लेकिन अब इसे लगभग सभी Payment Application में इस्तेमाल किया जाता है। जैसे; Paytm, PhonePe, Google Pay इत्यादि लोकप्रिय है।

UPI ID Create करना बहुत आसान है। बस कुछ ही चरण में अपने बैंक का UPI ID Generate कर सकते हैं। लेकिन इसके लिए आपके पास एक Bank Account और उस Bank का एक Debit Card/ATM Card होना जरूरी है। इसके अलावा एक Smartphone और एक UPI Supported App भी जरूरी है।

UPI ID क्या होता है? (What is UPI ID in Hindi)

UPI ID एक Virtual Address है। जो आपका और आपके बैंक का पहचान या पता होता है। इसके द्वारा Payment किया जाता है। इसलिए इसे Virtual Payment Address (VPA) कहते हैं। यह दिखने में Email ID की तरह होता है। आमतौर पर UPI का Format Example@bankname की तरह होता है।

इसमें Example के स्थान पर अपने अनुसार एक Unique Name लिखना होता है। जिसमें आप अपना नाम, मोबाइल नंबर या और कुछ भी रख सकते हैं। वहीं Bankname के स्थान पर आपके Bank का नाम होता है। जैसे यदि आप अपने SBI Bank का UPI बनाएंगे। तब यह UniqueID@sbi की तरह दिखेगा।

UPI PIN क्या होता है? (What is UPI PIN in Hindi)

ATM PIN की तरह ही UPI PIN होता है। जिस तरह ATM के द्वारा प्रत्येक Transaction पर ATM PIN डालना जरुरी होता है। उसी तरह UPI PIN का इस्तेमाल UPI के द्वारा प्रत्येक Transaction पर किया जाता है। इसके बिना Transaction नहीं किया जा सकता है।

UPI बनाने के लिए Bank Account को जोड़ते वक्त ही UPI PIN को Set किया जाता है। यह 4 से 6 Digits का एक PIN होता है। यह PIN Transaction करते वक्त Authentication का काम करता है। इसके द्वारा Transaction के अलावा Bank Balance भी Check किया जाता है। इसे Generate करने के बाद कभी भी बदला जा सकता है।

UPI Payment System काम कैसे करता है?

जैसा कि आप सभी लोग जानते होंगे कि पहले पैसे भेजने और प्राप्त करने के लिए बैंक के बहुत सारे Details देना पड़ता था। जैसे; Account Number, IFSC Code, Name, Branch इत्यादि। जिसके पास ये सभी जानकारी होता था। सिर्फ वही Payment कर सकता था। इसी तरह यदि किसी से Payment प्राप्त करने के लिए सबसे पहले Payment करने वाले को Bank की सारी जानकारी देना पड़ता था।

लेकिन UPI Payment System में ऐसा नहीं होता है। इसके द्वारा सिर्फ UPI ID से लेन-देन किया जा सकता है। यानी अगर आपको पैसे किसी और व्यक्ति को देना है। तब आपको सिर्फ उसका UPI ID पता होना चाहिए और कुछ भी नहीं। ऐसा इसलिए हो पाता है। क्योंकि UPI ID एक Unique ID होता है। यानी प्रत्येक Bank Account का अलग अलग UPI ID होता है। जो कि Bank Account से Linked होता है। जिसके कारण UPI ID से पैसे भेजने पर पैसे सीधा Bank Account में चला जाता है।

UPI Payment System का उपयोग करने के लिए सबसे पहले UPI ID Create करना पड़ता है। शुरुआत में UPI ID सिर्फ BHIM App से बनाया जा सकता था। किंतु आज लगभग सभी Payment App UPI को Support करती है। जो ऐप UPI Payment System का उपयोग करती है। उससे UPI ID Create कर सकते हैं। जैसे; BHIM, Google Pay, PhonePe, Paytm इत्यादि।

UPI ID Create करना बहुत आसान है। लेकिन इसके लिए आपके पास एक Bank Account और उस Bank का एक Debit Card/ATM Card होना जरूरी है। इसके अलावा UPI ID Generate करने के लिए एक Smartphone और एक UPI Supported App भी जरूरी है। UPI ID को Paytm, PhonePe, Google Pay और BHIM App के द्वारा बनाया जाता है।

UPI के फायदे

  1. UPI Payment System Cashless Payment करने के लिए सबसे अच्छा और Fast तरीका है।
  2. UPI के द्वारा Payment करने के लिए आपको किसी प्रकार का Tax या Extra Charge नहीं लगता है।
  3. UPI के द्वारा Payment 24×7 कर सकते हैं।
  4. किसी को पैसे देने (Transfer करने) के लिए उसका सिर्फ UPI ID की आवश्यकता होती है।
  5. इससे गलत बैंक में पैसे जाने का खतरा कम होता है। क्योंकि पहले गलती से Bank के विवरण गलत Type होने पर दुसरे के Bank Account में पैसा चला जाता था। लेकिन अब सिर्फ UPI ID Type करना होता है।
  6. बिना इंटरनेट कनेक्शन वाले मोबाइल फोन में *99# डायल कर इसका उपयोग किया जा सकता है।

UPI के नुकसान

  1. UPI के द्वारा एक दिन में पैसे का लेन-देन अधिकतम एक लाख तक किया जा सकता है।
  2. UPI इस्तेमाल करने के लिए इंटरनेट और Smartphone का होना जरूरी है।
  3. UPI में ATM की तरह एक Pin होता है। इसलिए इसे गुप्त रखें और किसी के साथ भी शेयर ना करें। वरना आपके Account Hack हो सकता है।

ये भी पढ़ें:-

  1. Mobile को हैंग होने से कैसे बचाएं?
  2. GPS क्या है और काम कैसे करता है?
  3. Paytm Cash कमाने के शीर्ष 20 ऐप

आपने क्या सीखा?

इस Post में UPI की पूरी जानकारी बताया गया है। जिसमें आपने जाना की UPI क्या है, UPI काम कैसे करता है, UPI के फायदे और नुकसान बताया गया है। हम उम्मीद करते हैं कि यह Post आपको पसंद आया होगा और कुछ नया जानने को मिला होगा। ऐसी जानकारी प्राप्त करने के लिए Blog को Subscribe जरूर करें। यदि यह Post आपलोगों को पसंद आया है। तब इस Post को अपने दोस्तो के साथ भी शेयर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top