Two Step Verification क्या है? इसके फायदे और नुकसान

आज इंटरनेट की मदद से बहुत कुछ किया जा सकता है। इसकी मदद से घर बैठे शॉपिंग, मोबाइल रिचार्ज, ऑनलाइन भुगतान करना, दोस्तो से जुड़ना इत्यादि बहुत से कार्य घर बैठे किया जा सकता है। इसके अलावा ऑनलाइन इंटरनेट से घर बैठे पैसे भी कमाया जा सकता है।

इसे पढ़े: ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए

जहाँ इंटरनेट के इतने सारे फायदे हैं। वहीं कुछ लोग इंटरनेट की मदद से दुसरो को क्षति पहुंचाते हैं। जिसमें ऑनलाइन धोखाधड़ी, ऑनलाइन पैसे तथा पर्सनल डेटा चोरी, फिरौती इत्यादि प्रमुख है। इन लोगों को आमतौर पर Scammers के नाम से जाना जाता है।

आज इंटरनेट पर कुछ भी सुरक्षित नहीं है। ये लोग अपने फायदे के लिए कुछ भी कर सकते हैं। अक्सर ये लोग आपके सोशल मीडिया अकाउंट या बैंक अकाउंट को हैक करने की कोशिश करते हैं। यहीं पर Two Step Verification काम आता है। चलिए जानते हैं कि Two Step Verification क्या है? इसके फायदे और नुकसान।

Two Step Verification क्या है?

आपने देखा होगा कि लगभग सभी सोशल मीडिया अकाउंट या बैंक अकाउंट का उपयोग करने के लिए Username और Password के द्वारा लॉगिन किया जाता है।

लेकिन आप ही सोचिए कि यदि कभी आपका Password और Username किसी को पता चल गया तो वह आपके अकाउंट का गलत इस्तेमाल कर सकता है। ऐसे ही कभी आपके बैंक का Username और Password किसी को पता चला तो वह आपके पैसे भी चोरी भी कर सकता है। Scammers और बुरे हैकर्स भी यही करते हैं। ये आपके अकाउंट को हैक करने की कोशिश करते हैं।

यहीं पर Two Step Verification का काम आता है। Two Step Verification आपके अकाउंट के सिक्योरिटी को डबल कर देता है। यह आपके अकाउंट को सुरक्षित करता है।

जब भी कोई आपके अकाउंट को लॉगिन करने की कोशिश करता है तो उसे इससे गुजरना होता है। इससे गुजरना सभी के लिए आसान नहीं होता है। इससे सिर्फ वहीं गुजर सकता है जो उस अकाउंट का मालिक (Owner) होता है।

Two Step Verification कैसे काम करता है?

आपने OTP का नाम तो सुना ही होगा। OTP का पुरा नाम One Time Password होता है। प्रत्येक OTP का इस्तेमाल एक बार ही किया जा सकता है। Two Step Verification OTP पर कार्य करता है।

समान्य अकाउंट में Username और Password द्वारा लॉगिन किया जाता है। किन्तु Two Step Verification इनेबल्ड अकाउंट को लॉगिन करने के लिए दो चरण से होकर गुजरना पड़ता है।

पहले चरण में समान्य अकाउंट की तरह Username और Password डाला जाता है। इसके बाद Two Step Verification से गुजरना पड़ता है।

दुसरे चरण Two Step Verification से गुजरने के लिए अकाउंट में रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी पर OTP जाता है। जिसे दुसरे चरण में डालना होता है। दुसरे चरण में OTP डालने के बाद अकाउंट में लॉगिन किया जाता है।

इसलिए यदि किसी को आपका पासवर्ड पता भी चल जाता है। तब भी वह आपके अकाउंट को लॉगिन करने में असमर्थ होता है। क्योंकि लॉगिन करने के लिए उसे Two Step Verification से होकर गुजरना पड़ेगा और Two Step Verification से गुजरने के लिए OTP डालना होता है।

लेकिन OTP तो अकाउंट के मालिक (OWNER) के पास आऐगा। इसलिए Two Step Verification से अकाउंट सुरक्षित हो जाता है। Two Step Verification चरण में OTP डालने से यह सिद्ध होता है कि आप ही अकाउंट के मालिक (OWNER) हो। इसलिए इसे Two Factor Authentication भी कहते हैं।

Two Step Verification के फायदे और नुकसान

अब आप जान ही गए होंगे कि Two Step Verification किसी भी अकाउंट के लिए सुरक्षा का कार्य करता है। चलिए अब जानते हैं इसके फायदे और नुकसान

Two Step Verification के फायदे

  1. इससे अकाउंट की सिक्युरिटी दोगुना हो जाता है। जिससे अकाउंट काफी हद तक सुरक्षित होता है।
  2. यह किसी भी अकाउंट के Unauthorised Access और हैकिंग से बचाता है।
  3. इससे किसी भी अकाउंट को कोई और व्यक्ति उपयोग नहीं कर सकता है।
  4. इससे ऑनलाइन भुगतान करना सुरक्षित होता है।

Two Step Verification के नुकसान

वैसे तो Two Step Verification से किसी प्रकार का नुकसान तो नहीं होता है। लेकिन जब आपके अकाउंट से रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर या रजिस्टर्ड ईमेल आपके पास नहीं होता है। तब आप भी अपने अकाउंट का उपयोग नहीं कर पाऐंगे।

सोशल मीडिया अकाउंट पर Two Step Verification इनेबल कैसे करें?
  1. Gmail का Two Step Verification इनेबल कैसे करें?
  2. Facebook में Two Step Verification इनेबल कैसे करें?
  3. WhatsApp में Two Step Verification इनेबल कैसे करें?

Conclusion

Two Step Verification से अकाउंट काफी हद तक तो सुरक्षित हो जाता है। इसके इनेबल या ऑन होने के बाद किसी भी अकाउंट को हैक या ऐक्सेस करना किसी के लिए भी मुश्किल हो जाता है। किन्तु फिर भी ऑनलाइन कुछ भी सेफ नहीं है।

इसे भी पढ़ें:-

उम्मीद करता हूँ कि यह लेख आपके लिए हेल्प फुल रहा होगा। यह लेख Two Step Verification क्या है? इसके फायदे और नुकसान आपको कैसा। अपना विचार शेयर करना ना भुलें। यदि कुछ पुछना है तो कमेंट से पुछ सकते हैं। इस लेख को अपने दोस्तो के साथ भी शेयर करें। ताकि वे सब भी अपने सोशल मीडिया अकाउंट को सुरक्षित कर सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top