RAM क्या है? इसकी परिभाषा, प्रकार और कार्य

इस लेख में RAM की पूरी जानकारी बताया गया है। जिसमें बताया गया है कि RAM क्या है, RAM की परिभाषा, RAM के प्रकार, RAM कैसे काम करता है, RAM के विशेषताए और RAM से संबंधित कुछ प्रश्नों के जवाब भी दिए गए हैं। अगर आप RAM की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं। तब इस लेख को अंत तक पढ़ सकते हैं। क्योंकि इस लेख में मैंने RAM की पूरी जानकारी देने की कोशिश की है। आपने RAM का नाम जरुर सुना होगा। अगर आपने कभी नया फोन या कंप्यूटर खरीदने गए होंगे। तब आपने भी दूकानदार से जरूर पूछा होगा कि इसमें कितना RAM है। या फिर दूकानदार खुद बता देता है कि इस कंप्यूटर या फोन में कितना RAM है।

आजकल तो सभी लोग फोन खरीदने के लिए सबसे पहले उसका RAM देखते हैं। क्योंकि सभी लोग ये जानते हैं कि ज्यादा RAM रहने पर PubG जैसे बड़े-बड़े Game खेल सकते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि मोबाइल में RAM क्या होता है। या फिर Computer में RAM क्या होता है। यह Computer में क्या करता है। RAM का क्या काम होता है। अगर आपको RAM की पूरी जानकारी रहेगी। तब आप अपने मोबाइल फोन या कंप्यूटर के लिए सही RAM ले सकेंगे। लेकिन ज्यादातर लोग ज्यादा RAM के चक्कर में अपना पैसा बर्बाद करते हैं। इसलिए आपको RAM की जानकारी रखनी चाहिए।

लेकिन अगर आपको RAM की जानकारी नहीं है। तब आप सिर्फ इस लेख को पढ़िए। आपको RAM की पूरी जानकारी हो जाएगी। तो चलिए जानते हैं कि RAM क्या है और कैसे काम करता है?

RAM क्या है? (What is RAM in Hindi)

आपने Memory (मेमोरी) का नाम तो सुना ही होगा। हाँ तो बस RAM भी एक Memory ही है। Memory मुख्य रूप से दो प्रकार की होती है। Primary Memory और Secondary Memory. Primary Memory तीन प्रकार की होती है। RAM, ROM और Cache Memory. इससे आपको समझ में आ गया होगा कि RAM भी एक प्रकार की Memory ही है। लेकिन इसे Primary Memory के अंतर्गत रखा जाता है। क्योंकि Computer में RAM को प्रमुख कार्य करना होता है। इसलिए इसे Main Memory भी कहते हैं।

RAM किसी भी Device के लिए सबसे महत्वपूर्ण Memory होती है। जिसका कार्य भी महत्वपूर्ण होता है। यानी यह Computer में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। जब हम अपने मोबाइल फोन या कंप्यूटर में कोई Application चलाते हैं। या फिर किसी प्रकार की Files जैसे; Photo, Video, Audio या Game आदि खोलते हैं। तब उस वक्त उसका Data RAM में Store होता है। जब हम Computer में कुछ भी करते हैं। तब वह Computer के RAM में ही Store होता है। जब Computer बंद किया जाता है। तब RAM में Store Data नष्ट हो जाता है। क्योंकि RAM एक प्रकार का Volatile Memory (अस्थायी मेमोरी) है। अर्थात इसमें Data अस्थायी तौर पर Store होता है।

RAM Computer के Motherboard पर स्थित एक चिप (Chip) है। जो दूसरे Storage Device या Memory से तेज होता है। इसे बनाने में भी अधिक खर्च होता है। इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि 16 GB के SD CARD को बनाने में जितना खर्च आता है। लगभग उतना 1 GB के RAM बनाने में लगता है। Computer में कुछ भी करने के लिए RAM का इस्तेमाल होता ही है। जैसे दूसरे Storage Device में Store Data (जैसे; Photo, Videos आदि) को भी Computer से देखने पर वह Data सबसे पहले RAM में ही Load होता है। उसके बाद उस Data को देख सकते हैं। अर्थात Computer में सारे कार्य RAM में Load होने के बाद ही सम्पन्न होता है। इसी प्रकार Computer के सारे कार्य में RAM का हाथ जरूर होता है।

RAM की परिभाषा (Definition of RAM in Hindi)

Computer का वह Memory जो वर्तमान में CPU द्वारा चलाए गए कार्य को करने के लिए अस्थायी तौर पर Data और Instructions Store रखता है। RAM कहलाता है।

अर्थात RAM Computer का वह Memory होता है। जो सिर्फ CPU को कार्य करने के लिए Data और Instructions Store रखता है। क्योंकि यह CPU का भाग होता है। इसमें Store Data को CPU Direct Access कर सकता है और अपना कार्य करता है। CPU को Fast कार्य करने के लिए ही RAM का उपयोग किया जाता है। क्योंकि अन्य Memory की Speed RAM की तुलना में कम होती है। RAM में Data तभी तक Store रहता है। जब तक उस Data का इस्तेमाल आप कर रहे होते हैं। जैसे अगर आप कोई Software का इस्तेमाल कर रहे हैं। तब वह Software RAM में Load रहता है। लेकिन जैसे ही आप उस Software को बंद कर देते हैं। वैसे ही RAM से Software और उसका Data नष्ट हो जाता है। या फिर Software का उपयोग करते वक्त ही Computer बंद करने पर या Computer से बिजली जाने पर वह Data Automatic नष्ट हो जाता है। RAM की विशेषताए नीचे विस्तार में देखेंगे।

RAM के प्रकार (Types of RAM in Hindi)

क्या आप जानते हैं कि RAM कितने प्रकार की होती है। RAM को कार्य क्षमता, उपयोग, गति तथा विशेषता के आधार पर दो प्रकार में बांट सकते हैं। RAM की क्षमता को GB में तथा इसकी गति को गीगाहर्ट्ज (GHz) में मापा जाता है।

1. SRAM क्या है?

SRAM का पूरा नाम Static RAM या Static Random Access Memory होता है। यह भी एक तरह का Volatile Memory (अस्थायी मेमोरी) है। इसका प्रयोग Computer में Cache Memory के तौर पर किया जाता है। क्योंकि SRAM में Data स्थिर रहता है। जिसे Refresh करने की आवश्यकता नहीं होती है। यह DRAM की तुलना में तेज और महंगा भी होता है।

2. DRAM क्या है?

DRAM का पूरा नाम Dynamic RAM या Dynamic Random Access Memory होता है। यह भी Volatile Memory ही है। इसका प्रयोग Computer में Main Memory के तौर पर किया जाता है। क्योंकि DRAM की Data हमेशा परिवर्तित होते रहता है। इस कारण इसे Refresh करने की आवश्यकता होती है। यह SRAM की तुलना में सस्ता और इसकी Speed भी SRAM से कम होती है। इसे Computer में CPU के Main Memory के लिए इस्तेमाल होता है।

RAM के कार्य (Functions of RAM in Hindi)

RAM का कार्य निम्नलिखित है।

  • Computer में RAM का कार्य मुख्य मेमोरी के रुप में होता है।
  • RAM का कार्य CPU को Data और Instructions देना होता है।
  • RAM का कार्य Computer को कार्य करने के लिए Space देना होता है।
  • RAM का कार्य Computer में हो रहे वर्तमान कार्य का Data, Program, Instructions या Command Load करना होता है।

तो यहाँ हमने RAM के कुछ कार्य बताया है। Computer के Start होते ही RAM कार्य करने लगती है और Computer को Start होने के लिए भी RAM की जरुरत होती है। क्योंकि Computer को Start करने वाले जरुरी Program जैसे; BIOS और Operating System भी RAM में Load होने के पश्चात कार्य करते हैं और Computer Start करते हैं।

RAM कैसे काम करता है? (RAM Works in Hindi)

RAM का Computer में क्या काम होता है। ये तो आपने जान लिया। चलिए अब जानते हैं कि RAM कैसे काम करता है। आपने भी अपने मोबाइल फोन या कंप्यूटर में फोटो, विडियो, ऑडियो, डॉक्युमेंट और एप्लीकेशन इत्यादि Download किया होगा। जब इसे Download किया जाता है। तब यह मोबाइल फोन या कंप्यूटर के अन्य Internal या External Device में Store हो जाता है। लेकिन जब इसका उपयोग करते हैं। तब यह RAM में Load हो जाता है। RAM की Speed अधिक होती है। जिसके चलते मोबाइल फोन या कंप्यूटर इन कार्यों को Fast कर देता है।

RAM से Data Sets के रुप में CPU को जाता है। जिसके बाद Process होता है और परिणाम देता है। लेकिन जब कम क्षमता के RAM वाले मोबाइल फोन या कंप्यूटर में एक साथ कई Application चालू करते हैं। या फिर एक साथ बहुत सारे कार्य करने लगते हैं। तब System Hang होना शुरू होता है। इसलिए किसी भी Device को अच्छे से कार्य करने के लिए उच्च क्षमता वाले RAM का होना आवश्यक होता है। RAM की क्षमता को MB, GB तथा Speed को MHz, GHz में मापा जाता है।

RAM की विशेषताएं (Features of RAM in Hindi)

RAM की मुख्य विशेषताए निम्नलिखित है।

  • RAM अन्य Storage Devices की तुलना में तेज होता है। यानी RAM जितना Speed किसी Memory की नहीं होती है।
  • RAM एक तरह का Volatile Memory यानी अस्थायी मेमोरी है।
  • RAM को Computer में Primary Memory या Main Memory के रुप में प्रयोग किया जाता है।
  • RAM को बनाने में लागत अधिक होती है। इस कारण यह अन्य Memory की तुलना में महंगा भी होता है।
  • RAM, CPU का भाग होता है। CPU, RAM को Direct Access कर सकता है।
  • RAM के बिना Computer Start भी नहीं हो सकता है।

RAM संबंधित प्रश्न और उनके उत्तर (FAQ)

1. RAM किसे कहते हैं?

Memory के एक प्रकार को RAM कहते हैं।

2. RAM का Full Form क्या है?

RAM का पूरा नाम (RAM Full Form in Hindi) Random Access Memory (रैंडम ऐक्सेस मेमोरी) होता है।

3. RAM किस तरह की मेमोरी है?

RAM एक तरह का Volatile Memory है।

4. RAM कितने प्रकार की होती है?

RAM मुख्य रुप से दो प्रकार की होती है।

5. कंप्यूटर की मुख्य मेमोरी क्या होती है?

Computer की मुख्य मेमोरी RAM होती है।

6. RAM को हिंदी में क्या कहते हैं।

RAM या Random Access Memory को हिंदी में याभिस्मृति या यादृच्छिक-अभिगम स्मृति कहते हैं।

इसे भी पढ़ें:-

Conclusion – RAM in Hindi

अगर आप एक मोबाइल फोन, कंप्यूटर या लैपटॉप खरीदने जा रहे हैं। तब उसमें कितना RAM होना चाहिए। ये आप अपने अनुसार देख सकते हैं। क्योंकि ये Device आप क्यों ले रहे हो। या फिर आप इन Device पर क्या करेंगे। ये सब देखकर और समझकर लिया जाता है। जैसे अगर आप कोई Heavy Game खेलने के लिए खरीद रहे हैं। तब उसके लिए अधिक क्षमता वाले RAM का होना आवश्यक है। अन्यथा System Hang होना शुरू होता है।

लेकिन एक बात का याद रखें कि RAM सबसे महंगा होता है। इसलिए अगर आप अधिक उच्च क्षमता के RAM का मोबाइल फोन या कंप्यूटर अधिक महंगा मिलेगा। इसलिए आप सिर्फ ज्यादा क्षमता वाले RAM की तरफ ना जाएं। बल्कि आपको जितने का कार्य है। वैसे RAM का मोबाइल फोन या कंप्यूटर खरीदें। जैसे मोबाइल फोन अब 8 GB RAM वाले भी आते हैं। जो कि महंगा होता है। लेकिन आप PUBG जैसे Game खेलने के लिए खरीद रहे हैं। तब 4 GB RAM वाले फोन भी ठीक रहता है। इसलिए ज्यादा पैसा बर्बाद ना करने जाए।

इस लेख में मैंने RAM की पूरी जानकारी बता दिया है। जिसमें बताया गया है कि RAM क्या है, RAM की परिभाषा, RAM के प्रकार, RAM कैसे काम करता है, RAM के विशेषताए और RAM से संबंधित कुछ प्रश्नों के जवाब भी बताए गए हैं। हम उम्मीद करते हैं कि यह लेख आपको पसंद आया होगा। RAM के बारे में कुछ नया जानने और सीखने को भी मिल गया होगा। अगर आपका कोई Friend नया मोबाइल फोन या कंप्यूटर खरीदने जा रहे हैं। तब इस लेख को उनके साथ भी शेयर करे। ताकि आपके दोस्त भी अपने लिए एक सही और बजट का मोबाइल फोन या कंप्यूटर खरीद सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top
Exit mobile version