कंप्यूटर नेटवर्क क्या है? – What is Network in Hindi

Computer Network से आप क्या समझते हैं? इस लेख में Computer Network क्या है इसके प्रकारों को समझाइए गए हैं। क्या आप जानते हैं कि Network और Networking क्या होता है। अगर आपको पता नहीं है कि Computer Network है क्या? तब इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें। क्योंकि इस लेख में हमने Computer Network की पूरी जानकारी बताया है। जिसमें बताया गया है कि Computer Network क्या है, Computer Network के आवश्यक घटक, Network के प्रकार, LAN क्या है, MAN क्या है, WAN क्या है, PAN क्या है, CAN क्या है, Network का इतिहास, Networking क्या है, Networking के लाभ, Network के उपयोग क्या है।

आप Internet का इस्तेमाल जरुर करते होंगे। इसके द्वारा ही हम अपने दोस्तो के साथ Communicate कर पाते हैं और Internet से बहुत सारी जानकारी प्राप्त कर पाते हैं। Computer Network की यह जानकारी भी आप Internet के द्वारा ही पढ़ रहे हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि Internet क्या है और Internet का निर्माण कैसे हुआ है। Internet क्या है, Internet कैसे काम करता है और Internet का निर्माण कैसे हुआ है। जानने के लिए आपको Computer Network की जानकारी होनी चाहिए। क्योंकि Internet भी एक Computer Network ही है। इसलिए Internet को समझने के लिए Computer Network को समझना जरूरी है। इसलिए यहाँ हमने Computer Network के बारे में पूरी जानकारी बताया है।

यहाँ बताये गये Network की जानकारी उन सभी लोगों के लिए महत्वपूर्ण है। जो Computer या Computer Networking के फिल्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं। इसलिए आप इस लेख को जरुर पढ़ें। इस लेख से आपको कुछ नया सीखने को जरूर मिलेगा। जो आपको तकनीकी फिल्ड में Expert और Smart बनायेगा। तो चलिए सबसे पहले Computer Network क्या है की जानकारी पढ़ते हैं।

Computer Network क्या है? (What is Network in Hindi)

दो या दो से अधिक Computer का आपस में जानकारी शेयर करने के लिए जुड़ना Computer Network कहलाता है। यानी जब दो या दो से अधिक Computer को आपस में किसी माध्यम से जोड़ देते हैं। तब एक Computer Network का निर्माण होता है। Computer Network आपस में एक दूसरे से जुड़े Computers का समूह होता है। जो एक दूसरे से Communicate और Data Share करने में सक्षम होते हैं। Network स्थापित करने के लिए कम से कम दो Computer की आवश्यकता होती है। जिसमें एक प्रेसक कंप्यूटर यानी भेजने वाला कंप्यूटर और दूसरा प्राप्तकर्ता कंप्यूटर यानी प्राप्त करने वाला कंप्यूटर चाहिए होता है। इसके अलावा Network Protocol और माध्यम की आवश्यकता होती है।

Network में Data Share या Communicate करते वक्त जिस Computer से Data Share किया जाता है। वह प्रेसक कंप्यूटर कहलाएगा तथा जिस Computer पर Data भेजा जाता है या जिस Computer पर उस Data को प्राप्त करते हैं। उसे प्राप्तकर्ता कंप्यूटर कहेंगे। इसमे Network Protocol एक Rule का कार्य करता है। जो Network में Share Data को बताता है कि कहां और कैसे भेजना है तथा माध्यम Computers को आपस में जोड़ने को कहा जाता है। आज Network में Computer Wired या Wireless किसी भी माध्यम से जुड़ सकते हैं। Network में Wired माध्यम में Optical Fibre Cable, Coaxial Cable और Twisted Pair Cable आदि होता है। जबकि Wireless माध्यम में Radio Wave, Infrared, Bluetooth और Satellite आदि में से कोई भी हो सकता है।

एक Computer Network में कई इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जुड़े होते हैं। जैसे; Computer, Server, Mainframe, Smartphone और Network Devices आदि। ये सभी आपस में किसी न किसी माध्यम से Connected होते हैं। Computer Network का सबसे बड़ा और लोकप्रिय उदाहरण Internet (इंटरनेट) है। इसमें विश्वभर के कोई भी Computer जुड़ सकता है और Internet का फायदा उठा सकते हैं। Network में Electronic Devices जोड़ने की प्रक्रिया को Networking कहा जाता है। अर्थात Computer Network निर्माण करने की Process को Networking कहते हैं। Networking के क्षेत्र में Network से जुड़े Computer को Nodes कहा जाता है तथा Services देने वाले Computer को Server कहते हैं।

जरुर पढ़ें:-

Network के आवश्यक घटक (Network Components in Hindi)

जैसा कि ऊपर हमने बताया है कि एक Computer Network को स्थापित करने के लिए क्या क्या चाहिए होता है। यहां आप Network स्थापित करने के लिए आवश्यक सभी चीजो के बारे में विस्तार से पढ़ेंगे। तो चलिए सबसे पहले जानते हैं कि Network Devices क्या होता है?

1. Network Devices

जैसा कि इसके नाम से ही पता चलता है कि यह एक Device है। इसका उपयोग आमतौर पर Networking Hardware के रुप में होता है। जिसका कार्य Computer या किसी अन्य Electronic Device को Network से जोड़ना होता है। बहुत तरह के Networking Devices है। जिसका उदाहरण नीचे दिया गया है।

  • Hub
  • Switch
  • Router
  • Modem
  • Gateway
  • Bridge
  • Repeater

2. Transmission Media

यह एक रास्ता या माध्यम है। जिसका कार्य Network से जुड़े एक Computer से दूसरे Computer में Electronic Signal ले जाना होता है। किसी Computer Network में Data Transfer की Speed इसके माध्यम पर Depend करता है। आजकल Data Transfer निम्नलिखित माध्यम से होता है।

  • Wired
  • Wireless

3. Network Interface

Network interface Networking का एक प्रमुख Hardware घटक होता है। जिसके बिना Computer एक Network से जुड़ नहीं सकता है। इसे Network Interface Card, Network Interface Controller, Network Adapter, Ethernet और Lan Adapter आदि कहा जाता है।

4. Network Protocol

Computer Network पूर्व परिभाषित नियमानुसार कार्य करता है। इसके नियम को ही Network Protocol कहा जाता है। आमतौर पर ये Protocols निर्धारित करता है कि Data Transfer कैसे और कहां होगा। Network में इसके जरिए ही दो Computer आपस में बातचीत या Data Transfer करने में समर्थ होते हैं।

  • TCP/IP
  • HTTP
  • HTTPS
  • FTP

Network के प्रकार (Types of Network in Hindi)

Computer Network कितने प्रकार के होते हैं? आमतौर पर किसी Network को उसके आकार, दूरी, संरचना और माध्यम के आधार पर बांटा जाता है। इस प्रकार Computer Network को पांच प्रकार में बांट सकते हैं। जो इस प्रकार है।

  1. PAN
  2. LAN
  3. CAN
  4. MAN
  5. WAN

चलिए Network के इन पांच प्रकारों को विस्तार से जानते हैं।

1. Personal Area Network (PAN) क्या है?

PAN का पूरा नाम Personal Area Network है। Personal Area Network किसी एक व्यक्ति के कार्यक्षेत्र तक सीमित होता है। जिसमें किसी व्यक्ति का Personal Computer, Smartphone, Tablet और अन्य Electronic Devices को आपस में Connect कर एक दूसरे Devices के बीच Data Transmission कराया जाता है।

2. Local Area Network (LAN) क्या है?

LAN का पूरा नाम Local Area Network तथा हिंदी में स्थानीय क्षेत्र जाल होता है। जैसा कि इसके नाम से आपको मालूम हो गया होगा कि Local Area Network सिर्फ स्थानीय स्तर पर काम करता है। यानी यह एक ऐसा Network है। जिसका फैलाव स्थानीय क्षेत्र (Local Area) तक होता है। इसका ज्यादातर उपयोग स्थानीय इलाको जैसे; घर कार्यालयों, स्कूल, कॉलेज जैसे छोटे समूह या संगठन में होता है। अधिकांश LAN में इथरनेट तकनीक का उपयोग किया जाता है।

3. Campus Area Network (CAN) क्या है?

CAN का पूरा नाम Campus Area Network है। यह एक ऐसा Computer Network है। जो Local Area Network से बड़ा लेकिन सीमित भौगोलिक क्षेत्र में फैला होता है।

4. Metropolitan Area Network (MAN) क्या है?

MAN का पूरा नाम Metropolitan Area Network है। यह Local Area Network से बड़ा लेकिन शहर के अंदर स्थित एक प्रकार का Computer Network है। यह किसी एक शहर के Computers को आपस में जोड़ता है। MAN का निर्माण Routers, Switches और Hubs मिलकर करते हैं।

5. Wide Area Network (WAN) क्या है?

WAN का पूरा नाम Wide Area Network है। यह एक ऐसा Computer Network है। जिसमें ना केवल इलाके या शहर जुड़ते हैं। बल्कि यह पूरे विश्व को जोड़ता है। इसका फैलाव पूरा विश्व होता है। यानी यह सभी देश के Computer को आपस में जोड़ने का काम करता है। इस प्रकार हम यह कह सकते हैं कि Network के अन्य सभी प्रकारों से Wide Area Network बड़ा होता है। इसका सबसे अच्छा उदाहरण इंटरनेट है।

इसे भी पढ़ें:-

Network का इतिहास (History of Network in Hindi)

क्या आप जानते हैं कि Computer Network का इतिहास क्या है? आज दुनिया के सभी लोग जिस Network से जुड़े हुए हैं। उसे विकसित करने के पीछे का इतिहास क्या है? Computer Network की शुरुआत आज से कई वर्ष पहले 1960 और 1970 के बीच शुरू हुआ था। सन् 1960 के आसपास US Department of Defence (अमेरिकी सेना) के लिए दुनिया का पहला Computer Network बनाया गया था।

जिसका नाम ARPANET रखा गया था। क्योंकि इसे ARPA नामक संस्था ने बनाया था। इस Network में UCLA, SRI, UCSB और University of Utah के Computers को आपस में Wire के जरिए जोड़ा गया। इस Network में पहला मैसेज 19 अक्टूबर 1969 में UCLA और SRI के बीच भेजा गया था। यह Network Packet Switching पर कार्य करता था। शुरुआत में इस Network का इस्तेमाल सिर्फ US सरकार और सेना करती थी। लेकिन जैसे जैसे Computer Network में विकास होते गया। वैसे वैसे इसकी भौगोलिक क्षेत्र भी बढ़ता गया और धीरे-धीरे समान्य लोग भी इसका इस्तेमाल करने लगे। इसी तरह Computer Network का विकास और विस्तार चलता रहा। जिसके कारण दुनिया का सबसे बड़ा Network Internet बना।

Computer Network के उपयोग (Use of Network in Hindi)

क्या आप जानते हैं कि Network का क्या कार्य होता है। आपको बता दें कि Computer Network का उपयोग निम्नलिखित कार्यों में होता है।

1. File Sharing

File Sharing किसी भी Computer Network का एक आम Functions है। जिसका मतलब है कि अगर हमारा Device किसी Network से जुड़ा हुआ है। तब हम अपने Device से उस Network के अन्य किसी भी Device में File Share कर सकते हैं। यह एक Computer Network का सबसे बड़ा फायदा है। Network में मौजूद इसी Functions के कारण हम सभी Whatsapp, Facebook और YouTube से Photos और Videos Share कर पाते हैं।

2. Resource Sharing

Network से जुड़े किसी Hardware और Software Resources जैसे कि Printer, Scanner या Application को Network से जुड़ा प्रत्येक व्यक्ति उपयोग कर सकता है। ऐसा करने से किसी कंपनी या संस्था में प्रत्येक व्यक्ति के लिए अलग से इन Resources की आवश्यकता नहीं होती है। यानी Computer Network के कारण बहुत सारे पैसो की बचत भी होती है।

3. Email

आज Computer Network से जुड़ा व्यक्ति Email का उपयोग करके आपस में तेजी से Communicate कर पाते हैं।

4. Fax Sharing

Computer Network के कारण ही Fax Sharing भी संभव हुआ है। Fax के जरिए किसी भी Documents को विश्व के किसी भी कोने से कहीं भी पहुंचाया जा सकता है। इसका उपयोग ज्यादातर Business में होता है।

5. Remote Access

Network से जुड़े किसी भी Devices को Remote Access करके कहीं से भी उस Device का उपयोग और Control कर सकते हैं। यह सुविधा भी Network के कारण ही प्राप्त होता है। लेकिन इसके कारण हमारे Device का Remote Access होने का डर होता है। लेकिन किसी भी Device का Remotely Access प्राप्त करने के लिए उस Device के Permission की आवश्यकता होती है।

6. Communication

पहले Communicate करने का Network जैसा कोई साधन नहीं था। जो कुछ ही पल में हमारे बात को किसी और तक पहुंचा सकता। लेकिन Network ने यह संभव कर दिखाया। आज Computer Network के कारण ही दुनिया के किसी भी व्यक्ति से बात कर पाते हैं।

Computer Network से संबंधित सवाल-जवाब (FAQ)

1. Network किसे कहते हैं?

आपस में जुड़े हुए Computers का वह समूह जो एक दूसरे से Communicate कर सकता है।

दुनिया का सबसे बड़ा Network है?

Internet दुनिया का सबसे बड़ा Computer Network है।

3. किस Network Device का कनेक्शन सबसे धीमा है?

डायल अप कनेक्शन सबसे सस्ता और धीमा होता है।

ये भी पढ़िए:-

Conclusion – Computer Network in Hindi

आपने अक्सर लोगों को यह कहते सूना होगा कि Network नहीं है। जिसके कारण Internet नहीं चल रहा है। तो इसका मतलब यह होता है कि आपके Device को Internet से जोड़ने के लिए Tower या किसी अन्य माध्यम का इस्तेमाल कर रहे होते हैं। लेकिन किसी समस्या के कारण आपका Device उस माध्यम से नहीं जुड़ रही है। जिसके कारण आप सबसे बड़े Network या Internet Access नहीं कर पा रहे हैं। तो उम्मीद करता हूँ कि Computer Network की ये जानकारी आपको पसंद आया होगा। जिसमें आपको कुछ नया सीखने को जरूर मिला होगा।

अगर आपको ये Computer Network की विस्तृत जानकारी पसंद आया है। तब इसे Facebook और Whatsapp पर भी शेयर करे। ताकि Computer Network की जानकारी आपके दोस्त लोग भी प्राप्त कर सके और जान सके कि Internet कैसे बना है और इसका इतिहास क्या है? इस लेख से संबंधित कोई प्रश्न है। तब नीचे कमेंट के जरिए जरूर पूछें। जल्द ही हम आपके प्रश्न का जवाब देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top