Computer Mouse क्या है? इसका परिचय, प्रकार, भाग, कार्य और उपयोग

Computer Mouse से आप क्या समझते हैं। अगर आपको Computer Mouse की जानकारी नहीं है। आप नहीं जानते हैं कि Computer Mouse क्या होता है और Mouse के कितने भाग होते हैं। तब इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें। क्योंकि इस लेख में हमने Computer Mouse की पूरी जानकारी बताया है। जिसमें बताया गया है कि Computer Mouse क्या है, Mouse का Full Form, Mouse का परिचय, Mouse के भाग, Computer Mouse के प्रकार, Mouse के कार्य और Mouse का इतिहास क्या है। अगर आप एक Computer User हैं। तब आप Computer Mouse को जरुर जानते होंगे और इसको अच्छे से समझते भी होंगे।

क्योंकि आज के Computer का उपयोग करने के लिए Mouse एक जरुरी उपकरण है। यह Computer में इस्तेमाल होने वाली सबसे प्रमुख Input Device में से एक है। इसके बिना Computer का इस्तेमाल करने में थोड़ी समस्या हो सकती है। Basically एक Computer Mouse का उपयोग Display के Cursor को Move या Control करने के लिए किया जाता है। जैसे; Computer Display के Items पर Cursor को ले जाकर Click या Select करते हैं। शुरुआती Computer में Computer Mouse या इसके जैसे किसी भी Device का उपयोग नहीं होता था।

क्योंकि शुरुआत में Computer सिर्फ Text पर कार्य करता था Graphics नहीं। लेकिन अब Computer Graphics पर आधारित है। जिसको आसानी से उपयोग करने के लिए Computer Mouse की आवश्यकता होती है। इसलिए प्रत्येक Computer User या वे व्यक्ति जो Computer User के रुप में अपना Carrier बनाना चाहते हैं। उन्हें Computer Mouse के बारे में जानकारी होनी चाहिए। आप इस लेख को पढ़कर Computer Mouse की समस्त जानकारी विस्तार से जानेंगे। तो चलिए सबसे पहले जानते हैं कि Computer Mouse क्या है?

Computer Mouse क्या है? (What is Mouse in Hindi)

आपके जानकारी के लिए बता दें कि Computer दो भागों से मिलकर बनता है। पहले भाग को Hardware तथा दूसरे भाग को Software कहते हैं। Computer के सभी Hardware Parts को उसके कार्य के अनुसार Input और Output Device में बांटते हैं। Mouse भी Computer का एक प्रमुख भाग है। जो Computer के Hardware भाग के अंतर्गत आता है। इसका कार्य Computer को निर्देश देना है। अर्थात Computer में Instructions Input करना होता है। इसलिए Mouse को Input Device कहा जाता है।

Computer में Mouse का काम Computer Screen के Pointer या Cursor को Control करना होता है। इस कारण Mouse को Pointer या Pointing Device भी कहते हैं। Computer Screen के Pointer या Cursor के जरिए Computer के Files, Folders और Computer के अन्य सभी Options को खोलने, बंद करने और एक जगह से दूसरी जगह ले जाने के लिए प्रयोग किया जाता है। Pointer या Cursor के इन सभी कामों को करने के लिए Mouse का उपयोग किया जाता है। क्योंकि Mouse Computer के Cursor को Control करने का काम करता है।

सामान्यतः Mouse में मुख्य रूप से तीन बटन होते हैं। जिसके द्वारा ये सभी कार्य किया जाता है। यानी Cursor को Control किया जाता है। पहले बटन को Left Button तथा दूसरे बटन को Right Button कहते हैं। जिसे अक्सर Left Click और Right Click कहा जाता है। इन दोनो बटन के बीच एक Scroll Wheel स्थित होता है। जिसका उपयोग Documents या Webpage पर ऊपर-नीचे जाने के लिए किया जाता है। यानी Scrolling के लिए। एक Mouse के जरिए Computer उपयोग करना आसान हो जाता है। क्योंकि इसके लिए किसी Command की जरूरत नहीं होती है और ना ही कुछ लिखने की आवश्यकता होती है।

जरुर पढ़ें:-

Mouse का Full Form (Mouse Full Form in Hindi)

आप लोगों ने Computer Mouse का इस्तेमाल तो किया ही होगा। लेकिन क्या आपको पता है कि Mouse का Full Form क्या होता है। यानी Computer Mouse का पूरा नाम क्या होता है।

Mouse का पूरा नाम Manually Operated Utility Selecting Equipment होता है।

  • M – Manually
  • O – Operated
  • U – Utility
  • S – Selecting
  • E – Equipment

Mouse का परिचय (Mouse Information in Hindi)

Mouse का चित्र

ऊपर आपने ये तो जान लिया कि एक Computer Mouse क्या है और इसका Full Form क्या होता है। लेकिन इससे बहुत लोगों को यह समझ नहीं आया होगा कि वास्तव में Computer Mouse कैसा होता है या कैसा दिखता है और Computer के कौन से Component को Mouse कहा जाता है। इसलिए यहाँ हम आपको Computer Mouse से परिचय करवाएंगे। आपको Mouse से परिचित कराने के लिए ऊपर हमने Computer Mouse का चित्र दिया है। Computer के इस Component को आपने जरूर देखा होगा। इसे ही Mouse कहा जाता है। Computer चलाते समय अक्सर एक हाथ इसी पर रहता है। इसके जरिए Computer के किसी भी Items, Folders या Options को खोलने, बंद करने या Computer Screen पर कहीं भी जा सकते हैं। इसके जरिए Computer को अनपढ़ व्यक्ति भी बहुत आसानी से चला सकता है।

Mouse के भाग (Mouse Parts in Hindi)

आज बहुत तरह के Computer Mouse उपलब्ध है। जिसका Design और Parts अलग अलग हो सकता है। इसलिए यहाँ हमने Computer Mouse के उन Parts की जानकारी दी है। जिसका उपयोग ज्यादातर Computer Mouse में होता है। जैसे;

1. Buttons

आजकल जिस Computer Mouse का उपयोग किया जाता है। उन Computer Mouse में कम से कम दो तरह के Buttons जरूर होते हैं। इन दो Buttons के सहारे Computer का सारा काम किया जा सकता है। यानी इन्हीं Buttons के जरिए ही Cursor को पूरी तरह Control किया जाता है। इन दो Buttons का नाम Left Button और Right Button होता है। इसके अलावा कुछ Mouse में दो से अधिक Buttons भी होते हैं। जिसका कार्य अलग होता है।

2. Mouse Wheel

Mouse के ऊपर तथा Left Button और Right Button के बीच एक चकरी जैसा Mouse Wheel होता है। इसकी सहायता से Computer के किसी भी Scrolling Page (जैसे; वेबपेज आदि) को Scroll कर के ऊपर नीचे सरकाया जा सकता है।

3. Ball, LED or Laser

Mouse में Ball, LED or Laser का प्रयोग सामान्यतः Cursor को Control या Move करने के लिए किया जाता है। Mechanical Mouse में Ball या Roller का इस्तेमाल होता है। वहीं Optical Mouse में Laser या LED का इस्तेमाल होता है।

4. Circuit Board

Mouse के अंदर एक Circuit Board भी होता है। जो Mouse द्वारा किए गए Activities या Information को Computer में Input करता है। यह Integrated Circuit का बना होता है।

5. Cable or Wireless Receiver

Mouse में Cable or Wireless Receiver का प्रयोग Mouse को Computer से Connect करने के लिए किया जाता है। Wireless Mouse को Computer से Connect करने के लिए Wireless Receiver का इस्तेमाल किया जाता है। वहीं Wired Mouse को Cable से Computer में Connect किया जाता है।

Computer Mouse के प्रकार (Types of Mouse in Hindi)

शुरुआत में Mouse लकड़ी का हुआ करता था। किन्तु इसमें सुधार होते होते। आज बहुत विकसित हो गया है। चलिए यहाँ हम कुछ Mouse के प्रकार को देखते हैं।

  1. Mechanical Mouse
  2. Optical Mouse
  3. Wireless Mouse
  4. Trackball Mouse
  5. Stylus Mouse

1. Mechanical Mouse क्या है?

Mechanical Mouse का अविष्कार 1972 में Bill English द्वारा किया गया था। यह Mouse निर्देश देने के लिए एक बॉल का उपयोग करता था। इसलिए इस Mouse को बॉल Mouse भी कहा जाता है।

2. Optical Mouse क्या है?

Optical Mouse में बॉल की जगह एक छोटा सा बल्ब लगा होता है। जो LED और DSP तकनीक पर कार्य करता है। जिससे Optical Mouse को हिलाने पर कंप्यूटर स्क्रीन के प्वाइंटर हलचल करता है। इस Mouse को एक केबल के द्वारा कंप्यूटर से कनेक्ट किया जाता है। इस तरह के Mouse में कुछ बटन भी मौजूद होते हैं। जिससे कंप्यूटर को निर्देश दिया जाता है। इस तरह के Mouse को इस्तेमाल करना भी आसान होता है। आजकल इसी प्रकार के Mouse का इस्तेमाल सबसे अधिक किया जाता है।

3. Wireless Mouse क्या है?

बिना केबल वाले Mouse को Wireless Mouse कहा जाता है। इसमें तार नहीं होता है। इसलिए इसे Cordless Mouse (ताररहित माउस) भी कहा जाता है। इसे USB Port के द्वारा कंप्यूटर से कनेक्ट किया जाता है। जो Radio frequency (RF) पर आधारित होता है। इस Mouse को चलाने के लिए अलग से बैट्री की जरूरत होती है। इस Mouse की बनावट Optical Mouse की तरह होता है।

4. Trackball Mouse क्या है?

Trackball Mouse में Trackball का इस्तेमाल होता है। इस Mouse से कंप्यूटर को निर्देश देने के लिए बॉल को अंगुली या अंगुठे से घुमाना होता है। यह Mouse भी Optical Mouse की तरह ही होता है। किन्तु इससे कंप्यूटर को निर्देश देने में अधिक समय लगता है। और इससे अधिक नियंत्रित भी नहीं कर सकते हैं।

5. Stylus Mouse क्या है?

Stylus Mouse एक Pen (कलम) की तरह होता है। इस Mouse को Gordon Stewart ने अविष्कार किया था। इसलिए इनके नाम Gordon से gStick Mouse भी कहते हैं।

Mouse का इतिहास (History of Mouse in Hindi)

Mouse का शुरुआत 1960 से हुआ। जब वर्ष 1960 में डगलस एंजेलबर्ट ने Computer Mouse का अविष्कार किया था। उस वक्त Mouse को लकड़ी से बनाया गया था। जिसे चलाने के लिए दो पहिया लगाया गया था।

तब से अब तक Computer Mouse ने बहुत से पड़ाव पार कर लिए हैं। अब तो बिना तार के Mouse यानी Wireless Mouse भी आ गया है। वर्ष 1972 में पहली बार Digital Mouse आया था। इसी Mouse में पहली बार धातु का भी प्रयोग किया गया था।

इस वक्त तक Computer Mouse का नाम Mouse नहीं था। उस वक्त इसे बग के नाम से जानते थे। किन्तु स्टैंफोर्ड रिसर्च इंस्टीट्यूट में बनाए गए Mouse का आकार चूहे से मिलता जुलता था। इसलिए इसे Mouse कहा जाने लगा। वर्ष 1981 में Computer Mouse बाजार में आ चुका था। जिसके बाद वर्ष 1983 से माइक्रोसॉफ्ट ने भी Mouse की बिक्री शुरू किया।

इसके बाद से ही Mouse ने बहुत सारे पड़ाव पार किया और तरह तरह के Computer Mouse आए। जैसे वर्ष 1991 में दुनिया का पहला Wireless Mouse आया।

जरुर पढ़ें:-

Computer Mouse के कार्य (Functions of Mouse in Hindi)

कंप्यूटर का उपयोग करने के लिए Mouse का उपयोग करना जरूरी होता है। बिना Computer Mouse के कंप्यूटर चलाना मुश्किल होगा। यह कंप्यूटर के लिए एक प्रमुख उपकरण है। लेकिन क्या आपको पता है कि Mouse का कार्य क्या होता है।

यदि आप लोगों ने Computer Mouse का इस्तेमाल किए होंगे। तब आपको जरूर पता होगा कि Computer Mouse का इस्तेमाल क्यों होता है। इसका कार्य क्या होता है। Computer Mouse में मुख्य रूप से तीन बटन होते हैं। जिसमें से एक बटन को Wheel Button कहा जाता है और बाकी दो बटन Clicking Button होते हैं।

इन्हीं तीनों बटन के सहारे कंप्यूटर को निर्देश दिया जाता है। इसलिए इन तीनों बटन को विस्तार से जानेंगे की किस बटन का क्या कार्य है और कुल मिलाकर Mouse का क्या कार्य होता है। Computer Mouse के कार्य निम्न है-

1. Pointing

Computer Mouse का मुख्य कार्य Navigation होता है। कंप्यूटर के स्क्रीन पर एक Pointer होता है। जिसे अक्सर Cursor के नाम से जाना जाता है। यह Cursor Mouse से कनेक्टेड होता है। Mouse के हिलाने डुलाने से Cursor भी Mouse के अनुसार हिलता डुलता है।

कंप्यूटर में कहीं पर क्लिक करने के लिए Mouse के सहारे Cursor को उस स्थान तक ले जाते हैं। जब Cursor को कंप्यूटर के किसी Item पर ले जाते हैं। तब वह Item Hover होता है। इसी प्रक्रिया को Pointing या Hovering कहते हैं।

2. Clicking

एक Normal Computer Mouse में दो Clicking Button होते हैं। इन Button को दबाकर छोड़ना Click कहलाता है। इसका इस्तेमाल Click करने में होता है। अर्थात कंप्यूटर के किसी Item को खोलने के लिए उस Item पर Cursor को ले जाकर Clicking Button का इस्तेमाल करना होता है।

1. Left Click

Computer Mouse में दो Clicking Button होते हैं। Left Side के Button के द्वारा किए गए Click को Left Click कहते हैं। Left Click का उपयोग मुख्य रूप से Single Click और Double Click के रुप में किया जाता है।

1. Single Click

Left Click को एक बार दबाकर छोड़ देना Single Click कहलाता है। Single Click मुख्य रूप से OK की तरह कार्य करता है। कंप्यूटर में किसी Icon पर Single Click का इस्तेमाल करने से वह Icon Select हो जाता है। जैसे; My Computer के Icon पर Single Click करने से My Computer Select हो जाता है। इसी तरह किसी Webpage के Link पर Single Click करने से Link खुल जाता है। Single Click का इस्तेमाल सबसे अधिक होता है।

2. Double Click

Left Click को दो बार जल्दी-जल्दी दबाना Double Click कहलाता है। इसका उपयोग कंप्यूटर के किसी File, Program या Documents को खोलने के लिए किया जाता है। जैसे; कंप्यूटर में “My Computer” को खोलने के लिए Double Click करना होगा। Double Click का उपयोग किसी Documents में Text को Select करने के लिए भी होता है।

2. Right Click

Mouse के Right Side में स्थित Clicking Button को एक बार दबाना Right Click कहलाता है। जब किसी Item (File, Program या Documents) को Pointing कर के Right Click का इस्तेमाल करने से उस Item के साथ विभिन्न प्रकार के कार्य करने के लिए एक List आता है।

3. Selecting

Selecting भी Computer Mouse का एक प्रमुख कार्य है। जब कंप्यूटर के किसी Item पर Pointing करने के बाद Single Click के बाद वह Item Select हो जाता है। जिसे Selecting कहते हैं। किसी Documents या Webpage के Text पर Double Click करने से भी वह Text Select हो जाता है। जब कोई Item Select होता है। तब उस Item पर नीले रंग का परतनुमा हो जाता है। जिससे पता चलता है कि वह Item Select है।

5. Dragging And Dropping

कंप्यूटर में किसी Item को एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाने के लिए Dragging And Dropping का इस्तेमाल किया जाता है। Dragging And Dropping क्रिया को करने के लिए किसी Item पर Pointing करने के पश्चात Left Click को उस Item पर दबाए हुए Mouse के सहारे दुसरे स्थान तक ले जाते हैं।

5. Scrolling

Computer Mouse के तीसरे Button जिसे Scroll Wheel कहते हैं। इसका इस्तेमाल किसी Webpage या Documents को ऊपर और नीचे सरकाने के लिए होता है। एक लम्बी Menu को भी ऊपर या नीचे करने के लिए Scroll Wheel का इस्तेमाल करते हैं। ऊपर और नीचे करने की क्रिया को ही Scrolling कहा जाता है।

Computer Mouse संबंधित सवाल-जवाब (FAQ)

1. Mouse किसे कहते हैं?

Computer के Pointing Device को Mouse कहते हैं।

2. Mouse का पूरा नाम क्या है?

Mouse का पूरा नाम Manually Operated Utility Selecting Equipment है।

3. Mouse का दूसरा नाम क्या है?

Mouse का दूसरा नाम Pointer या Pointing Device है।

4. Computer के Mouse को हिंदी में क्या कहते हैं?

Mouse की बनावट बिलकुल एक चूहे की तरह होता है। यह दिखने में भी चूहा जैसा लगता है। इसी लिए इसके अंग्रेजी नाम पर Mouse नाम रखा गया है। लेकिन एक Computer Mouse को चूहा नहीं कहा जाता है। बल्कि Mouse को हिंदी में भी माउस ही बोलते हैं।

5. Mouse की खोज कब हुई?

Computer Mouse का खोज सबसे पहले 1960 में हुआ था।

6. Computer Mouse के आविष्कारक कौन है?

Computer Mouse का आविष्कारक Douglas Engelbart हैं।

7. Mouse के जनक कौन हैं?

सबसे पहले Douglas Engelbart ने Mouse को बनाया था। इसलिए Douglas Engelbart को Mouse के जनक कहा जाता है। Douglas Engelbart द्वारा बनाया गया Mouse लकड़ी का था।

8. Mouse कौन सा डिवाइस है इनपुट या आउटपुट?

Mouse एक Input Device है।

9. Keyboard और Mouse क्या कहलाता है?

Keyboard और Mouse दोनो प्रमुख Input Device है।

10. एक Mouse के कौन से बटन को प्राइमरी बटन कहा जाता है?

Mouse के Left Button को Primary Button कहा जाता है।

11. Mouse के मध्य बटन का नाम क्या है?

Mouse के बीच वाली बटन को Scroll Wheel कहते हैं।

12. Mouse की क्रिया लिखिए?

Mouse की क्रिया की जानकारी ऊपर विस्तार में बताया गया है। आमतौर पर Mouse की क्रिया Computer पर कहीं पर Click करने, Select करने, Hower करने, Scroll करने तथा चालू और बंद करने में होता है।

13. Mouse का उपयोग क्या है?

Computer में Mouse का महत्वपूर्ण भूमिका होता है। अगर आप जानना चाहते हैं कि Mouse का उपयोग क्यों किया जाता है। तब आप ऊपर बताए गए Mouse के कार्य को पढ़िए। क्योंकि ऊपर बताए गए Mouse के सभी कार्य के लिए Mouse का उपयोग किया जाता है।

इसे भी पढ़ें:-

आपने क्या सीखा?

हमें उम्मीद है कि यह लेख आपको पसंद आया होगा। इस लेख में Mouse क्या है, Mouse के प्रकार, Mouse के कार्य इत्यादि बताया गया है। अगर यह लेख आपको पसंद आया है। तब इसे अपने दोस्तो के साथ शेयर करना बिल्कुल भी ना भूलें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top