Monitor क्या है? इसके प्रकार और कार्य

यदि आप एक कंप्यूटर उपयोगकर्ता हैं। तब आपने Monitor का नाम तो सुना ही होगा। लेकिन क्या आपको इसकी जानकारी है। बहुतो को Monitor की जानकारी नहीं होती है। इसलिए इस लेख में Monitor की जानकारी शेयर कर रहा हूँ। जहाँ आप Monitor क्या है और इसके प्रकार जानेंगे।

वैसे तो Monitor को आप सभी ने देखा भी होगा। लेकिन Monitor क्या है। शायद ही किसी को पता होता है। Monitor एक इलेक्ट्रॉन उपकरण होता है। जिसे कंप्यूटर का महत्वपूर्ण उपकरण कहते हैं। इसके बिना कंप्यूटर पूरी तरह से अधूरा है।

तो अगर आपको भी Monitor की जानकारी नहीं है। तब इस लेख को पढ़ सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: की-बोर्ड क्या है और इसके प्रकार

Monitor क्या है?

Monitor कंप्यूटर का एक महत्वपूर्ण डिवाइस है। या बोले तो कंप्यूटर का महत्वपूर्ण आउटपुट डिवाइस है। जो कंप्यूटर के समस्त सूचनाएँ जैसे; चित्र, प्रोसेस या इनपुट के परिणाम (Result) को सॉफ्ट कॉपी के रुप में प्रदर्शित करता है।

यह कंप्यूटर और कंप्यूटर उपयोगकर्ता के बीच संबंध स्थापित करने में सहायक होता है। इसके बिना कंप्यूटर अधूरा होता है। यह दिखने में बिलकुल टीवी की तरह होता है। इसे VDU (Visual Display Unit) भी कहा जाता है।

Monitor और टीवी के बीच मुख्य अंतर सिर्फ इतना होता है कि Monitor में चैनल बदलने वाले टीवी ट्यूनर नहीं होते है। और Monitor में प्रदर्शन रिजॉल्यूशन टीवी की तुलना में उच्च होते है। Monitor की गुणवत्ता की पहचान इसके रिजॉल्यूशन, डॉट पिच और रिफ्रेश रेट से किया जाता है।

उच्च प्रदर्शन रिजॉल्यूशन बढ़िया ग्राफिक्स और छोटे अक्षर आदि को भी देखना आसान बनाता है। Monitor का रिजॉल्यूशन जितना अधिक होगा। उतने अधिक पिक्सल होंगे।

Monitor का Full Form

Monitor के Full Form क्या होता है? शायद ही आप लोगों ने Monitor के Full Form के बारे में सुना होगा। लेकिन Monitor का Full Form यानी Monitor का पूरा नाम Mass On Newton Is Train On Rat होता है।

  • M – Mass
  • O – On
  • N – Newton
  • I – Is
  • T – Train
  • O – On
  • R – Rat

Monitor का इतिहास

Monitor भी Printer की तरह एक Output Device होता है। यह कंप्यूटर का एक प्रमुख अंग है। इसके बिना कंप्यूटर की कंप्यूटर कैसा होगा एक बार सोच के देखिए। क्योंकि कंप्यूटर के शुरुआती दिनों में Output प्राप्त करने के लिए Monitor जैसा कोई Device नहीं था।

उस वक्त Paper के द्वारा कंप्यूटर से Communicate किया जाता था। यानी पहले Output Paper पर Print होकर प्राप्त होता था। तब वर्ष 1922 में पहला Computer Monitor बनाया गया। इस Computer Monitor को CRT (Cathode Ray Tube) का उपयोग करके बनाया गया था। इसलिए इसे CRT Monitor कहा जाता है।

CRT Monitor बड़े और भारी होते थे। CRT का उपयोग करके पहले Television Screen भी बनाया गया था। लेकिन आजकल LCD (Liquid Crystal Display) Monitor का उपयोग सबसे अधिक होता है। क्योंकि यह पतला और हल्का भी होता है। इस Monitor को 2000 के आसपास बनाया गया था।

Monitor के प्रकार

पहले Monitor को Cathode Ray Tube से बनाया जाता था। किन्तु आज Monitor बनाने के लिए Liquid Crystal Display का उपयोग प्रमुख तौर पर किया जा रहा है। आज Monitor में बहुत से बदलाव हुए हैं। पहले Monitor बड़ा और भारी होता था। जिसे शायद आप लोगों ने सिर्फ मूवी में देखा होगा। क्योंकि अब उस Monitor का उपयोग बहुत कम ना के बराबर होता है। तो चलिए Monitor के मुख्य प्रकार को जानते हैं

1. CRT Monitor

CRT का पूरा नाम Cathode Ray Tube होता है। CRT Monitor बड़े और भारी टीवी के जैसे होते थे। यह Monitor Cathode Ray Tube पर आधारित होता था। जिसे विकसित ही टीवी के लिए किया गया था। इसमें एक Cathode Ray Tube होता है। जिसे आमतौर पर Picture Tube भी कहा जाता है। Cathode Ray Tube में इलेक्ट्रॉन गन लगा होता है। जिसके द्वारा प्राप्त इलेक्ट्रॉन बीम को परावर्तित कर के चित्र बनाया जाता था।

2. LCD Monitor

LCD का पुरा नाम Liquid Crystal Display होता है। CRT Monitor बिलकुल टीवी की तरह भारी-भरकम हुआ करता था। जिसे विकसित कर LCD Monitor लाया गया। यह Monitor आकर्षित होते हैं। जो कम जगह और कम बिजली लेते थे। पहले इसे लैपटॉप में ही उपयोग किया जाता था। किन्तु आज इसका उपयोग Desktop Computer में भी उपयोग किया जाता है।

3. LED Monitor

LED का पुरा नाम Light Emitting Diode होता है। यह CRT और LCD Monitor की तुलना में भी कम बिजली का उपयोग करता है। फिर भी अधिक टिकाऊ होते हैं। इस Monitor को पर्यावरण के भी अनुकूल माना जाता है। यह Monitor बाकी के Monitor से महंगे होते हैं। अभी मार्केट में यह Monitor सबसे नवीनतम है।

4. Flat Panel Monitor

Flat Panel Monitor एक सीधा और पतला स्क्रीन होता है। जो वजन में हल्का और जगह भी कम घेरता है। यह Monitor CRT Monitor से महंगा किन्तु बिजली का उपयोग कम करता है। यह LCD तकनीक पर आधारित होता है। इसका उपयोग लैपटॉप और नोटबुक आदि में अधिक किया जाता है।

Monitor के कार्य

कंप्यूटर के प्रत्येक भाग का कुछ ना कुछ कार्य होता है। चूँकि Monitor एक Output Device है और Output Device का कार्य सुचना देना होता है। इसलिए Monitor का कार्य भी सुचना देना ही होगा। लेकिन कुछ Output Device Hard Copy के रुप में सुचना देता है। जैसे; Printer

वहीं कुछ Output Device Soft Copy के रुप में सुचना देता है। जैसे; Monitor, Monitor का कार्य सुचना को Soft Copy के रुप में दिखाना होता है। कंप्यूटर के सारे कार्य को Monitor पर देख कर करते हैं। Monitor के बिना कंप्यूटर में क्या हो रहा नहीं देख सकते हैं।

इसे भी पढ़ें:-

  1. कंप्यूटर हार्डवेयर क्या है?
  2. इनपुट डिवाइस क्या है?
  3. आउटपुट डिवाइस क्या है?
  4. माउस क्या है?

आपने क्या सीखा?

यह लेख आप लोगों को कैसा लगा। इस लेख में Monitor क्या है, Monitor के इतिहास, Monitor के प्रकार, Monitor के कार्य और Full Form बताया गया है। उम्मीद करता हूं कि आपको कुछ नया सीखने को मिला होगा। यदि आपका कोई प्रश्न है। जो इस लेख में नहीं है। या फिर कंप्यूटर संबंधित किसी कोई और प्रश्न है। तो कमेंट से पुछ सकते हैं। इस लेख को अपने दोस्तो के साथ शेयर करना बिलकुल भी ना भूलें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top
error: Content is protected !!