Hacking क्या है? Hacker कितने प्रकार के होते हैं वर्णन कीजिए

Hacking क्या है?

Hacking से आप क्या समझते हैं। क्या आप जानते हैं कि Hacking क्या होता है और Hacking कितने प्रकार के होते हैं। बहुत सारे लोग Hacking को सिर्फ गलत समझते हैं। ये लोग Hacking का नाम सुनते ही गलत समझ लेते हैं। लेकिन यह सच नहीं है। प्रत्येक चीज के दो पहलू होते हैं। चाहे वह सिक्का हो या कुछ और। उसी तरह Hacking के भी दो पहलू है। एक बूरा है तो दूसरा अच्छा। तो अगर आप भी Hacking को बूरा और बेकार समझते हैं। तब इस लेख को जरूर पढ़िए। क्योंकि इस लेख में हमने Hacking को विस्तार से बताया है। जिसमें बताया है कि Hacking क्या है, Hacking कितने प्रकार के होते हैं, Hacker किसे कहते हैं, Hacker कितने प्रकार के होते हैं, Ethical Hacking क्या है, Ethical Hacker किसे कहते है, Hacking Legal है या illegal, Hacking के फायदे, Hacking के नुकसान, Cyber Crime क्या है, Cyber Crime के कितने प्रकार होते हैं।

आजकल कंप्यूटर का युग चल रहा है। जिसमें किसी भी कार्य को करने के लिए Computer या Smartphone की आवश्यकता होती है। इसके बिना लगभग किसी भी कार्य को कर पाना संभव नहीं है। क्योंकि आज लगभग सभी कार्य कहीं ना कहीं कंप्यूटर से जुड़ा हुआ है। चाहे कंपनी या व्यापार चलाना हो या फिर किसी सरकारी दफ्तर में काम करना हो। आज कंप्यूटर की आवश्यकता छोटे-छोटे Shop और Restaurant में भी होता है।

क्योंकि कंप्यूटर लगभग सभी कार्य में हमारी मदद कर सकता है। चाहे Calculation करना हो या Bill बनाना हो। कंप्यूटर सभी कार्य को बहुत तेजी से करता है। शायद इसी कारण सभी कार्य को कंप्यूटरीकृत किया जा रहा है। Digital India के तहत India में भी सभी कार्य को कंप्यूटरीकृत किया जा रहा है। जिसमें एक Student Online Exam देने से लेकर Results Check करने तक सभी कार्य को कंप्यूटर से कर सकता है।

इसके अलावा कंप्यूटर का उपयोग Shopping, Ticket Booking, Gaming, Communicating, Studying, Marketing, Journalism और Banking में भी किया जा रहा है। लेकिन आजकल Cyber Crime भी बढ़ता जा रहा है। कंप्यूटर के द्वारा किए गए अपराध को Cyber Crime कहते हैं। Cyber Crime बढ़ने का मुख्य कारण Hacking है। Cyber Crime में Hacking Weapons की तरह Use किया जाता है।

जिससे लोगों के Device को Hack कर Personal Files और Important Files को चोरी कर लेते हैं। जिसके लिए उन्हें Blackmail कर फिरौती की मांग करते है। इसके अलावा Bank Account Hack कर पैसे की चोरी भी किया जा सकता है। किंतु इससे बचने का तरीका कंप्यूटर को छोड़ना बिलकुल भी नहीं हो सकता है। क्योंकि आज सभी कार्य को कंप्यूटर से करते हैं।

इसलिए इससे बचने का एक मात्र तरीका है कि इससे हमेशा सतर्क रहें अवगत रहें और इसे अच्छे से समझें। जैसे; Hacking क्या है और Hacking कैसे किया जाता है। इस लेख में Hacking की पूरी जानकारी बताया गया है। इसलिए इस लेख को पढ़कर Hacking को समझ सकते हैं। क्योंकि Hacking को अवगत कराने का जिम्मा हमारा है। चलिए सबसे पहले जानते हैं कि Hacking क्या है।


Hacking क्या है? (What is Hacking in Hindi)

किसी Computer System, Network, Website, Software आदि में मौजूद खामियों (Vulnerability) का पता करना और इनकी मदद से इन्हें अपने Control में करने की प्रक्रिया को Hacking (हैकिंग) कहते हैं। Hacking करने का मुख्य उद्देश्य गोपनीय जानकारी को चुराना, नष्ट करना या इससे कुछ छेड़खानी करना शामिल होता है।

चुराए हुए जानकारी का इस्तेमाल आपसे पैसे मांगने के लिए किया जाता है। आमतौर पर कोई व्यक्ति कहीं दूर बैठकर Hacking जैसी घटनाओं को अंजाम देते हैं। Hacking का तात्पर्य तकनीकी गतिविधियों से होता है। लेकिन Hackers किसी का Personal Data प्राप्त करने के लिए Psychology का भी इस्तेमाल करते है। जिसे Hacking की दुनिया में Social Engineering के नाम से जाना जाता है।

आजकल Hacking को Cyber Crime की तरह देखा जाता है। अधिकतर लोग इसे एक अपराध समझते हैं। लेकिन ऐसा बिलकुल भी नहीं है। क्योंकि Hacking अच्छे और बुरे दोनो कामों में Use किया जाता हैं। कुछ Hacking हमें नुकसान पहुंचाने के उद्देश्य से किया जाता है तो वहीं कुछ Hacking हमें सुरक्षित रखने के लिए किया जाता है। Hacking का अर्थ कंप्यूटर सिस्टम या नेटवर्क के Data में सेंध लगाना या पहुंच प्राप्त करना होता है।

Hacking के प्रकार (Types of Hacking in Hindi)

ऊपर आपने Hacking क्या है को पढ़ा है। इस Hacking को मुख्यतः दो वर्गों में बांट सकते हैं।

  1. Ethical Hacking
  2. Malicious Hacking

1. Ethical Hacking क्या है? (What is Ethical Hacking in Hindi)

जैसा कि इसके नाम से ही पता चलता है कि यह नैतिक हैकिंग है। जिसमें Hacking जानबूझकर सही उद्देश्य के लिए किया जाता है। इसमें प्रत्येक काम कानून के दायरे में रहकर किया जाता है। इसलिए इसे White Hat Hacking और Penetration Testing भी कहा जाता है। इसमें लोग Hacking तो करते हैं। लेकिन वो Hacking सही उद्देश्य से और Owner के Permission लेकर करते हैं।

Ethical Hacking किसी Computer System, Network, Website, Software आदि में मौजूद खामियों को ढूंढने के लिए किया जाता है। System में मौजूद खामियों को तकनीकी भाषा में Vulnerability कहा जाता है। जब पता चलता है कि System में Vulnerability है। तब इसे System से दूर किया जाता है। ताकि कोई व्यक्ति इस Vulnerability की मदद से System Hack ना कर सके। इस तरह Ethical Hacking लोगों को सुरक्षित रखने के लिए किया जाता है। Ethical Hacking करने वाले व्यक्ति को बड़े-बड़े कंपनी में Vulnerability ढूंढने, Vulnerability दूर करने और System Hack होने से बचाने के लिए रखा जाता है।

2. Malicious Hacking क्या है? (What is Malicious Hacking in Hindi)

नुकसान पहुंचाने के उद्देश्य से किया गया Hacking Malicious Hacking कहलाता है। यह गैर कानूनी होता है। क्योंकि इसमें लोगों के Data के साथ खिलवाड़ किया जाता है। जैसे; Data चोरी करना, Data के साथ छेड़खानी करना या इसे नष्ट करना शमिल है। चुराए हुए Data के बदले या तो फिरौती के तौर पर पैसे मांगा जाता है या किसी कंपनी को बेच दिया जाता है। कभी कभी बदले के भावना से चोरी किए गए Personal Data को Internet या Social Media पर Publish कर दिया जाता है। ऐसा Reputation बर्बाद करने के उद्देश्य से किया जाता है।

इसके अलावा Email Account Hack करना, Social Media Account Hack करना, Bank से पैसे चोरी करना भी Malicious Hacking में किया जाता है। Malicious Hacking से बड़े-बड़े कंपनी और सरकार भी अछूता नहीं है। क्योंकि Malicious Hacking से इनके Data Center, Server, Network और Security Agency, Polish, आदि की वेबसाइट को Hack किया जाता है। यह गलत काम होता है। इसलिए इसे Black Hat Hacking कहते हैं।

Malicious Hacking को निम्नलिखित भागों में बांट सकते हैं।

1. Computer Hacking

इस प्रकार के Hacking में क्षति सिर्फ Computer System को होता है। जिसमें Computer System को Hack करना, System से Data चोरी करना, Data नष्ट करना, Spy करना शामिल है। कंप्यूटर में ये सभी कार्य आमतौर पर Virus के जरिए किया जाता है। जो यह कार्य करता है। वो कहीं दूर बैठकर ये सभी कार्य करता है।

2. Mobile Hacking

उसी तरह Mobile Hacking में Target किसी मोबाइल सिस्टम पर किया जाता है। जिसमें Mobile को Control करना, Spy करना, Data चोरी और नष्ट करना भी शामिल होता है। ये आमतौर पर Virus, Trojan और Malware के द्वारा किया जाता है। इसके अलावा इसमें Hacking Application का भी इस्तेमाल किया जाता है।

3. Email Hacking

इस प्रकार के Hacking का मतलब किसी Email Account को Unauthorised तरीके से Access प्राप्त करना होता है। जिसका उद्देश्य Personal और Important Mails को चुराना और नष्ट करना होता है। आजकल YouTube Channel का Access प्राप्त करने के लिए Gmail Account को Hack किया जा रहा है।

4. Website Hacking

इस प्रकार के Hacking में Website के Server को Target बनाया जाता है। ताकि Website को Hack किया जा सके। Website Hacking का उद्देश्य उसे Control करना, उसके Data को चोरी करना, नष्ट करना, Publish करना या उसके साथ खिलवाड़ करना हो सकता है।

5. Password Hacking

इस प्रकार के Hacking का मतलब Password Cracking से होता है। जिसमें Hacking के बहुत सारे Tools की सहायता से किसी System के Password को पता किया जाता है। जिसके बाद System को Control किया जा सकता है।

6. Network Hacking

जैसा कि इसके नाम से ही पता चल रहा है कि इस प्रकार के Hacking में किसी Network को Hack किया जाता है। जैसे कोई कंपनी या सरकारी दफ्तर के बहुत सारे कंप्यूटर एक Local Area Network से जुड़ा होता है। तब इस Local Area Network में Access प्राप्त करना Network Hacking कहलाएगा। इस Network को Hack करने के बाद उससे जुड़े सभी Computer System को नुकसान पहुंचाया जा सकता है।

अभी तक हम सिर्फ Hacking को समझ रहे थे। अब इस कार्य को करने वाले व्यक्ति की चर्चा करते हैं। ये लोग कौन होते हैं और इसके प्रकार आदि


Hacker किसे कहते हैं? (Who is a Hacker in Hindi)

Hacker कौन है?

Hacking करने वाला या Hacking जैसी घटनाओं को अंजाम देने वाला व्यक्ति Hacker (हैकर) कहलाता है। आमतौर पर ये लोग किसी सिस्टम में घुसपैठ करते हैं। इसलिए इसे घुसपैठिया के रुप में जाना जाता है। एक Hacker कंप्यूटर के ज्ञाता होते हैं। इन्हें कंप्यूटर और नेटवर्क की अच्छी जानकारी होती है। ये हमेशा Hacking के नये-नये Skills को सीखते और जानते रहते हैं।

इससे इनके ज्ञान में इजाफा होता रहता है। ये Programmer भी होते हैं। इन्हें Programming Language की भी अच्छी खासी जानकारी होती है। यानी Hackers Programming में भी माहिर होते हैं। इनके पास Technology की भी अच्छी खासी जानकारी होती है। इसलिए इन्हें पकड़ना मुश्किल या नामुमकिन होता है। आपने Hacking फिल्मो में Hackers को देखा होगा।

जो सिर्फ एक बटन दबाकर कर पूरे System को Hack कर लेता है। लेकिन Reality इससे भिन्न होती है। किसी System या Network को Hack करना आसान तो बिल्कुल नहीं होता है। इसके लिए सबसे पहले इनके खामियों (Vulnerability) को ढूंढना होता है। उसके बाद इस Vulnerability के सहारे System या Network को Hack किया जाता है।

Hacking आमतौर पर जानकारी चोरी करने या किसी को क्षति पहुंचाने के उद्देश्य के लिए जाना जाता है। लेकिन ऐसा हमेशा नहीं होता है। कुछ अच्छे Hackers भी होते हैं। जो Hacking का इस्तेमाल अच्छे कामों के लिए करते हैं। अच्छे Hackers लोगों की मदद और बूरे Hackers से बचाने का कार्य करते हैं। इनके कार्य के अनुसार इसके कुछ प्रकार होते है। चलिए Hackers के उन प्रकारों को जानते हैं।

जरुर पढ़ें: हैकर कैसे बनें?

Hacker कितने प्रकार के होते हैं? (Types of Hacker in Hindi)

Hackers को इनके कार्य के अनुसार बहुत सारे प्रकार में बांटा जाता है। लेकिन मुख्य तौर पर Hackers के तीन प्रकार होते है।

1. White Hat Hackers

White Hat Hackers वो लोग होते हैं। जो अच्छे काम करते हैं। ये Hacking तो करते हैं। लेकिन Owner के Permission से उनके System के Vulnerability को जानने के लिए करते हैं। ताकि System से Vulnerability को दूर कर के System को Hack होने से बचाया जा सके। White Hat Hackers को Ethical Hackers भी कहते हैं और इनके द्वारा किए गए Hacking को Ethical Hacking कहा जाता है। इन्हें सफेद टोपी के साथ दिखाया जाता है।

2. Black Hat Hackers

Black Hat Hackers वो लोग होते हैं। जो बूरे काम करते हैं। ये लोग Hacking दुसरे का नुकसान एवं खुद के फायदे के लिए करते हैं। जैसे; गोपनीय जानकारी चोरी करना, नष्ट करना, फिरौती मांगना, पैसे चोरी करना इत्यादि। ये लोग आमतौर पर पैसे के लिए ही ये सब गलत काम करते हैं। Black Hat Hackers को Crackers भी कहा जाता है। इन्हें काली टोपी के साथ दिखाया जाता है।

3. Gray Hat Hackers

Gray Hat Hackers वो लोग होते हैं। जो अच्छे और बुरे दोनो तरह के काम करते हैं। ये बिना अनुमति के किसी के System Hack करते हैं। लेकिन ये उनके System के साथ खिलवाड़ नहीं करते हैं। इनके Hack करने का मुख्य उद्देश्य अपनी Hacking Skills को बढ़ाना होता है। लेकिन ये कभी कभी अपने Hacking Skills का इस्तेमाल गलत काम में भी करते हैं। यानी ये दिखते में White Hat Hackers होते हैं लेकिन होते हैं Black Hat Hackers। इन्हें Gray टोपी के साथ दिखाया जाता है।

#Miscellaneous Hackers

Hackers को मुख्यतः 3 प्रकार होते हैं। लेकिन इन्हें इनके कार्य के हिसाब से निम्न प्रकार में बांटा जा सकता है।

1. Red Hat Hackers

Red Hat Hackers उन Hackers को कहा जाता है। जो मुख्य तौर पर Government Agencies के Secret Information और उन सभी चीजें जो Sensitive Information से ताल्लुक रखती है। ये उन्हें Hack करते हैं।

2. Blue Hat Hackers

Blue Hat Hackers उन Hackers को कहा जाता है। जो System के कमजोरी (Vulnerability) को ढूंढता है। जिसके द्वारा उस System को Hack किया जा सकता है। ये Hackers उन कमजोरी को System के Owner को बताता है। जिसके बदले उसे अच्छे खासे पैसे दिए जाते हैं। इस तरह के Hackers आमतौर पर किसी एक कंपनी के लिए काम नहीं करते हैं।

3. Script Kiddie

Script Kiddie एक गैर-कुशल व्यक्ति होता है। यह दुसरे Expert Hackers के द्वारा बनाए उपकरणों, स्क्रिप्टों आदि का उपयोग करके Hacking घटना को अंजाम देता है।

4. Elite Hackers

Elite Hackers वो Hackers होते हैं। जिनके पास Hacking का असाधारण कौशल मौजूद होता है। इनके पास Hacking का भरपूर ज्ञान होता है। ये अपने काम में माहिर खिलाड़ी होते हैं।

5. Neophyte

एक Neophyte वो होते हैं। जो कि Hacking की दुनिया में नये होते हैं। इन्हें Hacking टेक्निक के बारे में ज्यादा कुछ जानकारी नहीं होती है।

6. Hacktivist

Hacktivist उस Hackers को कहा जाता है। जो सामाजिक, धार्मिक और राजनीतिक आदि संदेश भेजने के लिए Hacking करते हैं। ये Hackers आमतौर पर Website को Hijack और Website पर संदेश छोड़ने के लिए जाने जाते हैं।

7. Phreaker

एक Hacker जो कंप्यूटर के बजाय टेलीफोन में कमजोरी (Vulnerability) ढूंढता है। Phreaker कहलाता है। ये Hackers अपने फायदे के लिए टेलीफोन कमजोरी का उपयोग करते हैं।


Hacking के कुछ प्रमुख्य तकनीक

हमने ऊपर Hacking क्या है? इसके प्रकार वगैरह जान चुके हैं। यहाँ आप Hacking करने के कुछ प्रमुख तकनीक के बारे में बताया है।

1. Phishing

Phishing Hacking में उपयोग होने वाला एक आम तकनीक है। इस तकनीक में किसी दुसरे Website का जाली Website बनाकर User को संवेदनशील जानकारी प्राप्त किया जाता है। जैसे; Username और Password आदि।

2. Virus, Trojan

Virus और Trojan एक प्रकार Program होता है। जिसे System को नुकसान पहुंचाने के लिए Design किया जाता है। इससे System को सिर्फ नुकसान ही होता है।

3. Keylogger

यह एक प्रकार का Software या Program होता है। जिसकी मदद से कंप्यूटर को Hack, Spy और Monitor किया जाता है।

4. DDOS Attack

DDOS Attack का पूरा नाम Distributed Denial of Service Attack होता है। इसे बूरे Hackers द्वारा किसी Website के Server को Down करने के लिए करते हैं। जिसमें बहुत सारे Botnet को Server पर Target किया जाता है।

5. Social Engineering

Social Engineering भी एक Hacking तकनीक है। जिसमें Psychology का इस्तेमाल कर Confidential Information प्राप्त किया जाता है। इसे बहुत से लोग Social Engineering Attack भी कहते हैं।

6. Bruit Force Attack

Bruit Force Attack एक प्रकार का Cyber Attack है। इसे Automated Software या Tools की मदद से किया जाता है। जिसमें Password के लिए अनुमानित WordList तैयार किया जाता है। इस WordList को Automated Software या Tools के द्वारा एक एक Word को Try किया जाता है। इन WordList में से कोई Word Password से Match होने पर System को Bypass कर दिया जाता है।

Hacking Legal है या illegal?

ऊपर हमने Hacking क्या है और Hackers के तीन प्रकार बताया है। जिसमें से एक Hackers अच्छे कामों के लिए जाने जाते हैं। इन्हें Ethical Hacker कहा जाता है। ये दुसरे Hackers से लोगों को और उनके सिस्टम को Hack होने से बचाने का कार्य करते हैं। वहीं Hacking के दो प्रकार और भी बताया है। जिसमें से एक अनैतिक Hacking होता है तो वहीं एक नैतिक Hacking और अनैतिक Hacking का मिश्रण होता है। नैतिक Hacking Ethical Hacking को कहा जा रहा है।

Ethical Hacking को Legal माना जाता है। क्योंकि इस Hacking में लोगाें को Hack नुकसान पहुंचाने या क्षति पहुंचाने के लिए नहीं किया जाता है। बल्कि कंपनी या किसी व्यक्ति को Black Hat Hackers से रक्षा करने के लिए किया जाता हैं। ये सभी काम Owner की Permission और कानून के अंदर रहकर किया जाता है। इसलिए यह Legal होता है। India के बहुत सारे Colleges में Ethical Hacking की पढ़ाई की जाती है।

Ethical Hacking के पढ़ाई करने के बाद Ethical Hacking के तौर पर सरकारी नौकरी या किसी कंपनी के लिए काम कर सकते हैं। लेकिन Hacking का इस्तेमाल बूरे कामों में या किसी को नुकसान पहुंचाने के उद्देश्य से करना illegal होता है। ये Malicious Hacking कहलाते हैं।


साइबर अपराध क्या है? (What is Cyber Crime in Hindi)

Computer System, Network, Website और Software आदि में किए गए अपराध को Cyber Crime का नाम दिया जाता है। जैसे; कंप्यूटर वायरस फैलाना, जानकारी चुराना, जानकारी मिटाना, जानकारी बदलना, स्पैम ईमेल, फिशिंग और Hacking भी शामिल है। ये Hacking, Malicious Hacking होता हैं। Cyber Crime को करने वाले व्यक्ति को Cyber Criminal कहते हैं।

Cyber Criminal अक्सर Black Hat Hackers को देखा जाता है। हालांकि कभी कभार Gray Hat Hackers भी होते हैं। सरकार Cyber Crime के खिलाफ सख्त से सख्त कदम उठाता है। Cyber Crime में पकड़े जाने पर जेल भी हो सकती है। Cyber Crime को रोकने के लिए या फिर Cyber Criminal को पकड़ने के लिए Ethical Hackers की सहायता ली जाती है। Cyber Crime के तहत किए गए Attack को Cyber Attack कहा जाता है और Cyber Crime के तहत किए गए युद्ध को Cyber War कहा जाता है।

जरुर पढ़ें:-

साइबर अपराध के प्रकार (Types of Cyber Crime in Hindi)

Hacking क्रिया के अनुसार Cyber Crime को बहुत सारे Types में बांट सकते हैं। लेकिन नीचे Cyber Crime के कुछ प्रकार बताया गया है। जो आए दिन सुनने को मिलता है।

1. Computer Fraud

किसी के कंप्यूटर को Hack करना, Data चोरी करना, Data नष्ट करना, Data में बदलाव करना या फिर कंप्यूटर पर नजर रखना Computer Fraud है।

2. Email And Internet Fraud

Internet या Email के माध्यम से किए गए किसी प्रकार के Cyber Crime Email And Internet Fraud कहलाते हैं।

3. Virus Attack

Virus का उपयोग करके Computer System या Network को क्षति पहुंचाना Virus Attack कहलाता है। Virus Attack भी Cyber Crime का हिस्सा है। जिसमें कंप्यूटर वायरस को फैलाया जाता है।

4. ATM Fraud

ATM का Fraud करके पैसे निकालना यानी चोरी करना ATM Fraud कहलाता है।

5. Phishing

किसी Webpage का जाली Webpage बनाकर User को भटककर उसकी जानकारी प्राप्त करना Phishing है।

6. Cyber-Espionnage

किसी के System या Network में सेंध लगाकर उसपर नजर रखना या जासूसी करना Cyber-Espionnage कहलाता है। ये भी Cyber Crime का हिस्सा है। Cyber-Espionnage का इस्तेमाल ज्यादातर कंपनी, संगठन या सरकार के साथ किया जाता है।


Hacking के फायदे (Advantage of Hacking in Hindi)

  1. Hacking से Lost Information को Recover किया जा सकता है। खासकर तब जब आप Password भूल जाते हैं।
  2. Hacking से Security Check भी किया जा सकता है। इससे Computer System या किसी Network की weakness जान सकते हैं और उसे दूर कर सकते हैं।
  3. इससे हम Security Breaches को रोक सकते हैं।
  4. इससे हम खुद को और दुसरो की रक्षा बूरे Hackers से कर सकते हैं। यानी Cyber Crime को रोक सकते हैं।

Hacking के नुकसान (Disadvantage of Hacking in Hindi)

  1. Hacking के ज्ञाता व्यक्ति न चाहते हुए भी पैसो की लालच में आ जाते हैं। जिसके कारण गलत काम कर देते हैं।
  2. Hacking से किसी के गोपनीयता को उजागर किया जा सकता है।
  3. Hacking से कंपनी या किसी System Operations में टांग अड़ाया जा सकता है। जिससे Privacy Violation भी होता है।
  4. Hacking के द्वारा Cyber Crime को बढ़ाया जाता है।

भारत के कुछ Best Ethical Hackers कौन हैं?

  1. Rahul Tyagi
  2. Pranav Mistry
  3. Ankit Fadiya
  4. Kaushik Dutta
  5. Vivek Ramachandran
  6. Trishneet Arora
  7. Sunny Vaghela
  8. Benild Joseph
  9. Falgun Rathod
  10. Jayant Krishnamurthy

इन्हें भी पढ़ें:-

  1. कंप्यूटर क्या है?
  2. सॉफ्टवेयर क्या है?
  3. कंप्यूटर हार्डवेयर क्या है?
  4. प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है?
  5. काली लिनक्स क्या है?
  6. Cloud Computing क्या है?

आपने क्या सीखा?

इस Post में Hacking की पूरी जानकारी बताया गया है। जिसमें आपने जाना कि Hacking क्या है, Hacking के प्रकार, Hacker क्या है, Hackers के प्रकार, Hacking के प्रमुख तकनीक, Cyber Crime क्या है और Cyber Crime के कितने प्रकार होते हैं।

हम उम्मीद करते हैं कि Hacking क्या है कि जानकारी आपको पसंद आया होगा। इस Post से आपको बहुत कुछ सीखने और जानने को मिला होगा। यदि यह Post आपको पसंद आया है तब इसे Facebook पर जरूर शेयर करें। यदि Hacking संबंधित को प्रश्न है। तब नीचे कमेंट के माध्यम से पुछ सकते हैं।

2 thoughts on “Hacking क्या है? Hacker कितने प्रकार के होते हैं वर्णन कीजिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top
Exit mobile version