कर्फ्यू, जनता कर्फ्यू और लॉकडाउन में क्या अंतर है?

कर्फ्यू, जनता कर्फ्यू और लॉकडाउन एक आपातकालीन स्थिति जैसे; दंगा, लूटपाट, आगजनी तथा हिंसात्मक आदि को रोककर पुनः शांति व्यवस्था स्थापित करने या नागरिकों के सुरक्षा के लिए लगाया जाता है। परन्तु इन तीनों के बीच काफी फर्क होता है।

अभी कोरोना वायरस के वजह से भारत में कहीं पर कर्फ्यू तो कहीं पर लॉकडाउन लगाया जा चुका है। ऐसे में हमें इनके बारे में जरूर पता होना चाहिए। इन दोनो के बाद जनता कर्फ्यू आता है जिसे 22 मार्च को लगाया गया था। जिससे सभी को कर्फ्यू और जनता कर्फ्यू एक सा लगने लगा है।

परन्तु ऐसा बिल्कुल नहीं है। कर्फ्यू, जनता कर्फ्यू तथा लॉकडाउन एक दुसरे से पूरी तरह अलग है। ऐसे में कर्फ्यू क्या है, जनता कर्फ्यू क्या है तथा लॉकडाउन क्या है जानने वाले हैं। इसे जानने के बाद इन तीनो के बीच Difference क्या है। ये समझ में आ जाने वाला है।

ये जरूर पढ़ें:-

धारा 144 क्या है? पूरी जानकारी

कर्फ्यू क्या है?

कर्फ्यू बेहद गंभीर स्थिति में लगाया जाता है। इसके दौरान लोगों को अपने घरों से एक समयसीमा तक बाहर जाने की इजाजत नहीं होती है। कर्फ्यू के दौरान सिर्फ वही सेवाएं चालू रहती हैं। जो बेहद जरूरी हों।

कर्फ्यू के तहत लोगों को आदेश दी जाती है कि वो अपने घरों से बाहर सड़कों पर न निकलें। उल्लंघन करने पर गिरफ्तारी के साथ जुर्माना भी लगाया जा सकता है।

कर्फ्यू के दौरान जरूरी सेवाएं जैसे बाजार और बैंक बंद होते है। जब कर्फ्यू में ढील दी जाती है तभी ये सारी सेवाओं का लाभ लोगों को मिलता है और तब वो बाहर निकल सकते हैं।

जनता कर्फ्यू क्या है?

जनता कर्फ्यू ‘जनता के लिए, जनता द्वारा, खुद पर लगाया गया कर्फ्यू’ है। जनता कर्फ्यू जनता द्वारा खुद पर लगाया कर्फ्यू है। इस प्रकार के माहौल में जनता स्वयं ही कम मात्रा में एक दूसरे के संपर्क में आएगी।

जनता कर्फ्यू गंभीर स्थिति होने पर लगया जाता है। इसके तहत लोगों को अपने घरों में रहने की अपील की जाती है। जनता कर्फ्यू का उल्लंघन करने वालो पर कोई कारवाई नहीं की जाती है।

लॉकडाउन क्या है?

लॉकडाउन एक आपातकाल व्यवस्था होती है। जिसमें जरूरी सेवाएं जैसे; बैंक, डेयरी, आदि दुकनें बंद नहीं की जाती। लोगों को घरों में रहने की निर्देश दी जाती है। परन्तु आवश्यक चीजों जैसे; दवा तथा खाने-पीने जैसी जरूरी चीजों के लिए ही बाहर निकलने की अनुमति होती है। इसके दौरान बैंक से पैसे निकालने भी जा सकते हैं।

लॉकडाउन के दौरान आवश्यक सुविधाएं जारी रहती हैं। लेकिन किन सेवाओं को जारी रखना है यह प्रशासन पर निर्भर करता है। लॉकडाउन में स्थानीय प्रशासन निजी संस्थानों को बंद करवा देता है।

ये भी पढ़ें:-

  1. 10 कंम्प्युटर कोर्स जो संवार सकते हैं आपका कल
  2. GST क्या है? पूरी जानकारी
  3. मोबाइल से PNB का Balance कैसे चेक करें?

कर्फ्यू क्या है, जनता कर्फ्यू क्या है तथा लॉकडाउन क्या है यह जान लिया है। इससे आप इनके बीच के Difference को समझ चुके होंगे। वैसे देखा जाए तो कर्फ्यू सबसे ज्यादा सख्त तथा जनता कर्फ्यू सबसे आसान होता है। परन्तु हमें इन तीनों का पालन सही तरीके से करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top
error: Content is protected !!