CSS क्या है और कैसे सीखें?

CSS क्या है?

इस लेख में CSS की जानकारी बताया गया है। जिसमें हमने बताया है कि CSS क्या होता है, CSS का Full Form, CSS Style Sheets के प्रकार, CSS का इतिहास, CSS के फायदे, CSS कैसे सीखें और CSS में Code कैसे लिखा जाता है। अगर आप CSS की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं। तब आप इस लेख को अंत तक पढ़ सकते हैं। क्योंकि इस लेख में हमने CSS की पूरी जानकारी बताया है।

इसके पिछले लेख में हमने HTML की पूरी जानकारी बताया था। HTML को वेब का आधार माना जाता है। प्रत्येक वेबसाइट का Structure HTML के जरिए ही बनाया जाता है। इसके बिना वेबसाइट नहीं बन सकता है। लेकिन HTML के जरिए बनाये गये वेबसाइट का डिजाइन अच्छा नहीं होता है। यहीं पर CSS का काम आता है। CSS HTML के साथ मिलकर वेबसाइट के डिजाइन को अच्छा यानी Good Looking बनाता है। इसलिए अगर आप एक अच्छा वेबसाइट डिजाइन करना चाहते हैं। तब आपको HTML के साथ CSS को भी सीखना होता है।

क्योंकि CSS ही HTML द्वारा बनाये वेबपेज के Structure को सही रंग रुप देता है। लेकिन क्या आपको पता है कि CSS क्या है और CSS कैसे सीख सकते हैं। या फिर CSS से आप क्या समझते हैं। अगर आप वेब डिजाइनर, प्रोग्रामर, हैकर या फिर ब्लॉगर बनना चाहते हैं। तब आपको भी CSS की जानकारी होनी चाहिए। अगर आपको CSS की जानकारी नहीं है। तब चलिए जानते हैं।

CSS क्या है? (What is CSS in Hindi)

CSS कंप्यूटर की एक भाषा है। जिसका इस्तेमाल वेबपेज को डिजाइन करने के लिए किया जाता है। चूँकि वेबपेज का Structure HTML के जरिए बनाया जाता है। लेकिन वेबपेज के Structure को सही रंग रुप और आकार देना CSS का कार्य होता है। साधारण भाषा में CSS को समझें तो इसका कार्य वेब ब्राउजर को यह बताना होता है कि वेबपेज या वेबसाइट में उपलब्ध Text, Image, Paragraph इत्यादि का Font, Size, Color और Position आदि क्या दिखाना है। क्योंकि HTML से बने वेबपेज का डिजाइन दिखने में अच्छा नहीं होता है। इसी वेबपेज को CSS सुंदर और आकर्षक बना देता है।

इसलिए लगभग सभी वेबसाइट्स में CSS का उपयोग किया जाता है। CSS सिर्फ वेबसाइट के डिजाइन को आकर्षक बनाने के साथ-साथ डिजाइनर का काम आसान भी बनाता है। इसके अलावा वेबसाइट या वेबपेज में CSS के उपयोग से वेबसाइट या वेबपेज का Load Time भी Fast हो जाता है। अगर आप एक जल्दी Load होने वाला और सुंदर वेबसाइट बनाना चाहते हैं। तब आपको HTML के साथ CSS सीखने की आवश्यकता है। क्योंकि CSS का उपयोग हमेशा HTML के साथ ही होता है। बिना HTML के CSS का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है। यानी सिर्फ CSS से कुछ भी नहीं बना सकते हैं। लेकिन CSS के बिना HTML का उपयोग कर सकते हैं।

CSS किसी वेबपेज या वेबसाइट में मेकअप (Meckup) जैसा कार्य करता है। अगर आप वेब डिजाइनर, प्रोग्रामर, हैकर या फिर ब्लॉगर बनना चाहते हैं। तब आपको CSS सीख लेना चाहिए। CSS एक आसान वेब डिजाइनिंग भाषा है। जिसे जल्दी सीखा जा सकता है। इससे वेबपेज या वेबसाइट के Layout को Customise किया जा सकता है।

जरुर पढ़ें:-

CSS का Full Form (CSS Full Form in Hindi)

क्या आपको पता है कि CSS का पूरा नाम क्या होता है। यानी CSS का Full Form। CSS का Full Form Cascading Style Sheet होता है। इसका इस्तेमाल वेबपेज को Style करने के लिए किया जाता है। वेबपेज को सुंदर और आकर्षक बनाने के लिए कैस्केडिंग स्टाइल शीट का उपयोग होता है।

  • C – Cascading
  • S – Style
  • S – Sheet

CSS का इतिहास (History of CSS in Hindi)

Hakon Wium Lie नामक व्यक्ति के द्वारा वर्ष 1994 में सबसे पहले बनाया गया था। जिसे बाद में W3C (World Wide Web Consortium) के द्वारा वर्ष 1996 में CSS का First Version Release किया गया था। अब तक CSS का चार Version Release हो चुका है। जिसमें CSS का Latest Version CSS3 है। CSS का रखरखाव W3C ही करता है और यही CSS का Version Release करता रहता है।

CSS के फायदे (Benfits of CSS in Hindi)

  1. CSS वेब डिजाइनर के समय की बचत कराता है।
  2. CSS वेबपेज Loading Speed को Fast करता है।
  3. CSS को Maintain और Modify करने में आसान होता है।
  4. CSS लगभग सभी वेब ब्राउजर को Support करती है। यह Platform Independent भी है।
  5. CSS से वेबपेज को सुंदर और आकर्षक बना सकते हैं।
  6. CSS से वेबपेज के User Interface को सरल किया जा सकता है।
  7. CSS से वेबपेज को Responsive बना सकते हैं।
  8. CSS वेबपेज का Search Engine Ranking के लिए लाभदायक होता है।
  9. CSS से वेबसाइट के Bandwidth की बचत होती है।
  10. CSS से वेबपेज में Animation और Transition का उपयोग कर सकते हैं।
  11. CSS एक सरल भाषा है। जिसे सीखना आसान है।

CSS कैसे सीखें? (How to learn CSS in Hindi)

CSS एक सरल कंप्यूटर भाषा है। ऊपर हमने CSS के फायदे बताए हैं। इसलिए अगर आप इसे सीखना चाहते हैं। तब आप इसे बहुत ही आसानी से सीख सकते हैं। क्योंकि यह अन्य Programming Language की तुलना में आसान होता है। लेकिन अगर आप सोच रहे हैं कि CSS कैसे और कहाँ से सीख सकते हैं। तब इसकी जानकारी मैंने नीचे बताया है। पहले कुछ भी पढ़ने या सीखने के लिए एक ही माध्यम हुआ करता था। लेकिन आज डिजिटल युग है। अब आप ऑफलाइन के साथ ऑनलाइन कुछ भी पढ़ या सीख सकते हैं। इसी तरह CSS को भी ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनो माध्यमों से सीखा जा सकता है।

ऑफलाइन माध्यम से CSS सीखने के लिए आपको किसी Institute जाना होगा। वहाँ CSS के Teachers आपको CSS अच्छे से सीखाएंगे। आपके लगभग सभी Query का जवाब देंगे। लेकिन इसके लिए पैसे देना होता है। वहीं ऑनलाइन आप पैसे से और Free में भी CSS सीख सकते है। ऑनलाइन CSS सीखाने के लिए बहुत से प्लेटफॉर्म मौजूद है। जैसे; YouTube, Udemy, Unacademy इत्यादि। ऐसे ही बहुत सारे वेबसाइट मौजूद है। जहाँ बहुत सारे CSS Tutorial हिंदी में विडियो या लेख के माध्यम से मिल जाते हैं। इन वेबसाइट की मदद से आप HTML और CSS के अलावा और भी बहुत सारी Programming Language सीख सकते हैं। इन सभी के अलावा आप Books का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। CSS का Books आपको Book Store पर मिल सकता है।

जरुर पढ़ें:-

CSS Style Sheet का प्रकार ( Types of CSS in Hindi)

CSS Style Sheet के तीन प्रकार हैं। जो CSS लिखने के तरीके को बताते हैं।

1. Inline Style Sheet

HTML Code के किसी एक पंक्ति (एक Line), एक Paragraph या किसी एक Element के लिए CSS Properties का उपयोग करना Inline Style Sheet कहलाता है। Inline Style Sheet का उपयोग सीधे उसके HTML Tags में Style Attribute से किया जाता है। HTML Code में जहाँ जहाँ CSS Properties की आवश्यकता होती है। वहाँ वहाँ Inline Style Sheet की सहायता से CSS Properties लागू कर सकते हैं। यानी Inline Style Sheet का उपयोग बार बार कर सकते हैं।

2. Internal Style Sheet

Internal Style Sheet के द्वारा जिस HTML Code या वेबपेज में CSS Properties लागू करना होता है। उस HTML Code के Head Tag में CSS Code को लिखा जाता है। Inline Style Sheet किसी खास Element के लिए लिखा जाता है। वहीं Internal Style Sheet पूरे HTML Code के लिए लिख सकते हैं।

3. External Style Sheet

External Style Sheet के द्वारा किसी HTML Code में CSS Properties लागू करने के लिए अलग से एक CSS फाइल बनाया जाता है। इसके बाद इस CSS File को HTML Code के साथ Link Tag के द्वारा Link किया जाता है। इससे एक डिजाइनर की बहुत ज्यादा Time की बचत होती है। क्योंकि एक External Style Sheet को कई वेबपेज और HTML Code के साथ Link कर सकते हैं।

CSS में Code कैसे लिखें? (How to write CSS Code in Hindi)

CSS में Code लिखना HTML जितना ही आसान है। जिस तरह HTML में Code लिखने के लिए किसी विशेष सॉफ्टवेयर की आवश्यकता नहीं होती है। उसी तरह CSS के लिए भी विशेष सॉफ्टवेयर की आवश्यकता नहीं होती है। क्योंकि CSS को भी एक सामान्य Text Editor Software (जैसे; Notpad और Notpad ++) में लिख सकते हैं। क्योंकि CSS को HTML के साथ ही लिखा जाता है। चलिए CSS Code लिखने के Process को जानते हैं।

  • सबसे पहले अपने कंप्यूटर में किसी एक Text Editor को Install कर लें। जैसे; Notpad, Notpad ++ आदि।
  • अब Text Editor को Open करें और उसमें CSS का Code लिख कर Save कर दें।

इस तरह आप CSS Code को लिख सकते हैं। लेकिन एक बात का ध्यान रखें कि Inline Style Sheet और Internal Style Sheet HTML Code में ही लिखा जाता है। इसलिए इसे HTML के Extension (.html या .htm) के साथ ही Save करें। लेकिन External Style Sheet के लिए अलग से एक CSS File बनाया जाता है। इसलिए External Style Sheet को Save करते वक्त CSS का Extension .css के साथ Save करना होगा। जिसके बाद इस CSS File को HTML Code से Link करना होता है।

ये भी पढ़ें:-

  1. कंप्यूटर क्या है?
  2. कंप्यूटर हार्डवेयर क्या है?
  3. Software क्या है?
  4. Keyboard क्या है?
  5. Computer Mouse क्या है?
  6. Monitor क्या है?
  7. मदरबोर्ड क्या है?
  8. CPU क्या है?
  9. BIOS क्या है?
  10. कंप्यूटर मेमोरी क्या है?
  11. ROM क्या है?
  12. RAM क्या है?
  13. Processor क्या है?
  14. Computer Virus क्या है?
  15. Antivirus क्या है?
  16. Database क्या है?
  17. Web Browser क्या है?
  18. Search Engine क्या है?
  19. GPS क्या है?
  20. VPN क्या है?

Conclusion – What is CSS in Hindi

इस लेख में हमने CSS की पूरी जानकारी शेयर करने की कोशिश की है। जिसमें हमने बताया है कि CSS क्या है, CSS का Full Form, CSS का इतिहास, CSS के फायदे, CSS कैसे सीखें, CSS के प्रकार और CSS में Coding कैसे करते हैं। हम उम्मीद करते हैं कि यह लेख आप लोगों को पसंद आया होगा। अगर कुछ पूछना चाहते हैं तब कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं।

अगर आप वेब डिजाइनिंग सीखना चाहते हैं, वेब डिजाइनर बनना चाहते हैं। या फिर एक अच्छा वेबसाइट डिजाइन करना चाहते हैं। तब आपको HTML और CSS के साथ JavaScript को भी सीख लेना चाहिए। क्योंकि HTML के द्वारा Webpage का Structure Define किया जाता है। CSS उस Structures को Colorful और Good Looking बनाता है। वहीं JavaScript से Webpage को Attractive और Dynamic बनाया जाता है। अगर यह लेख आपको पसंद आया है। तब इस लेख को अपने दोस्तो के साथ भी शेयर करे।

2 thoughts on “CSS क्या है और कैसे सीखें?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top
Exit mobile version