BIOS क्या है? इसका क्या काम होता है।

कंप्यूटर आज की आवश्यकता बन चुका है। आज लगभग सभी क्षेत्र के कार्यों में कंप्यूटर का उपयोग होता है। जैसे; Bank, Railway, Post Office, Airports, Business, Entertainment, School And College से लेकर Engineer, Students, Teachers, Doctors इत्यादि। बिना कंप्यूटर जीवन यापन करना मुश्किल हो गया है।

जिस तरह मनुष्य की शुरुआत कंप्यूटर से होती है। उसी तरह कंप्यूटर के शुरू होने के लिए भी एक Software की आवश्यकता होती है। उस Software के बिना कंप्यूटर शुरू नहीं हो सकता है। उस Software का नाम BIOS (बायोस) है। इस Post में BIOS की पूरी जानकारी बताया गया है।

यदि आपको BIOS की जानकारी नहीं है। जैसे; BIOS क्या है (What is BIOS in Hindi), BIOS का Full Form, BIOS का कंप्यूटर में कार्य इत्यादि। तब इस Post को अंत तक जरूर पढ़ें।

BIOS क्या है? (What is BIOS in Hindi)

BIOS प्रत्येक कंप्यूटर में Installed एक महत्वपूर्ण हिस्सा होता है। इसके बिना कंप्यूटर शुरू नहीं हो सकता है। यानी कंप्यूटर के Start होने के लिए कंप्यूटर में BIOS का होना बहुत जरूरी है। कंप्यूटर में BIOS Install होने के बाद ही CPU में Program को Install किया जाता है। इसे System BIOS या PC BIOS भी कहते हैं।

यह एक प्रकार का Software, Program या फिर एक Firmware होता है। जो कंप्यूटर मदरबोर्ड के साथ स्थित ROM Chip में Store होता है। यह ROM Chip एक प्रकार का EEPROM Chip होता है। जो एक Non-Volatile ROM Chip है। जिसका मतलब है कि BIOS को Update या फिर Rewrite किया जा सकता है। लेकिन इसे आसानी से Delete या नष्ट नहीं किया जा सकता है।

हालांकि Electronically नष्ट किया जा सकता है। BIOS कंप्यूटर के सभी Hardware Device को पहचानता है। इसके पास सभी Input और Output Device का ब्यौरा होता है। जिससे Input और Output Device को Configure कर कंप्यूटर को बताता है कि कौन सा Device Input Device है और कौन सा Output Device

BIOS का प्रमुख कार्य कंप्यूटर Start करना होता है। जिसे Boot Process Start-Up कहते हैं। जब कंप्यूटर Start किया जाता है। तब सबसे पहले BIOS ही Display होती है। जिसके बाद Operating System को कंप्यूटर मेमोरी में Load करता है। तब जाकर कंप्यूटर पूरी तरह से शुरू होती है।

BIOS का Full Form (Full Form of BIOS in Hindi)

BIOS का Full Form! यानी BIOS का पूरा नाम क्या है। क्या आप जानते हैं कि BIOS का पूरा नाम क्या होता है।

BIOS का पूरा नाम Basic Input Output System होता है।

  • B – Basic
  • I – Input
  • O – Output
  • S – System

BIOS के कार्य (Functions of BIOS in Hindi)

BIOS कंप्यूटर का एक महत्वपूर्ण Part होता है। इसलिए कंप्यूटर में BIOS के कार्य भी महत्वपूर्ण ही होते हैं। BIOS का कंप्यूटर में प्रमुख कार्य निम्नलिखित है।

  1. BIOS कंप्यूटर के Hardware जैसे; Memory, Processor, Disc Drive, Keyboard और Mouse इत्यादि का जाँच करता है। जिसे Power On Self Test (POST) कहा जाता है।
  2. BIOS Date और Time को Store रखता है। इसके लिए एक CMOS नामक Special Battery भी होती है। जिसके कारण कंप्यूटर के बंद हो जाने के बाद भी Date और Time सही Set रहता है।
  3. कंप्यूटर सही तरीके से कार्य कर सके। जिसके लिए BIOS CMOS की Settings को सबसे पहले Read करता है।
  4. BIOS CMOS Settings Read करने के बाद Device Drivers Load कर Operating System और Connector Device के बीच Interface का कार्य करता है।
  5. BIOS कंप्यूटर Start करने के लिए जरूरी Files और Program को RAM में Load करता है। जिसके बाद ही हमारा कंप्यूटर पूरी तरह से Start होता है।

BIOS Settings को Open कैसे करे?

BIOS की अपनी एक Settings होती है। यदि आप BIOS Settings में कुछ बदलाव करना चाहते हैं। तब आप BIOS Settings को Open कर के ऐसा कर सकते हैं। BIOS Settings को Open करने के लिए नीचे के Steps को Follow करना होता है। लेकिन एक बात का ध्यान रखें कि कंप्यूटर Start होने के लिए BIOS बहुत जरूरी होता है। इसलिए इसमें कुछ ऐसा बदलाव ना करें। जिससे कंप्यूटर Start ना हो सकें।

Step#1:- BIOS Settings को Open करने के लिए सबसे पहले कंप्यूटर को Restart करना होता है।

Step#2:- Restart करने के बाद कंप्यूटर के शुरू होते ही (Boot-Up Process के वक्त) बिना समय गवाए कंप्यूटर कीबोर्ड से F2, F12, Del, या ESC (यह BIOS निर्माता पर निर्भर करता है) में से किसी एक Keys को दबाना होता है।

जिसके बाद कंप्यूटर शुरू होने के बजाय BIOS Settings Open हो जाएगी। यहाँ से BIOS Settings को बदलाव भी कर सकते हैं। BIOS Settings से बाहर निकलने के लिए F10 Keys को दबाना होता है।

BIOS को Reset कैसे करे?

यदि आपका कंप्यूटर सिस्टम शुरू नहीं हो रहा है। या फिर शुरू करने में किसी प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ता है। तब हो सकता है कि आपके BIOS Settings में कुछ गलत बदलाव हो गया हो। ऐसे में आप अपने BIOS Settings को Reset कर सकते हैं। इससे BIOS Settings Default में Save हो जाता है। BIOS Settings को Reset करने के लिए निम्न Steps को Follow करें।

Step#1:- सबसे पहले कंप्यूटर को Restart करे।

Step#2:- कंप्यूटर के Restart होते ही (Boot-Up Process के वक्त) बिना समय गवाए BIOS Keys को दबाएं। BIOS Keys Operating System के शुरू होने से पहले दबाना होता है।

Step#3:- जब BIOS Settings Open हो जाए। तब BIOS Settings से Load Setup Defaults Option को चुनें।

Step#4:- अंत में F10 Keys को दबाएं और Enter Keys से सभी बदलाव को Save कर के BIOS Settings से Exit हो जाएं।

BIOS निर्माता कंपनी

BIOS बनाने वाली कुछ कंपनी निम्न है।

  1. AMI
  2. Insyde
  3. Phoenix Technology Ltd.
  4. ByoSoft
  5. Award

ये भी पढ़ें:-

  1. मदरबोर्ड क्या है?
  2. CPU क्या है?
  3. कंप्यूटर मेमोरी क्या है?

आपने क्या सीखा?

इस Post में BIOS क्या है (What is BIOS in Hindi), BIOS का Full Form, BIOS के कार्य इत्यादि बताया गया है। हम उम्मीद करते हैं कि यह Post आपको पसंद आया होगा और कुछ नया जानने को मिला होगा। यदि यह Post आपको पसंद आया है। तब इस Post को अपने दोस्तो के साथ शेयर करना ना भूलें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top
Exit mobile version